जाहिलीया  

जाहिलीया इस्लाम में पैग़म्बर मुहम्मद के सामने हुए क़ुरआन के रहस्योंद्घाटन के पहले का काल|

  • अरबी में इस शब्द का अर्थ है- 'अज्ञानता' या 'बर्बरता', जो मुस्लिम मूल्याकंन में अरब की संस्कृति और इस्लाम-पूर्व जीवन को इस्लाम की शिक्षा तथा नियमों की तुलना में नकारात्मक सिद्ध करता है।
  • जाहिलीया शब्द की सकारात्मक व्याख्या केवल साहित्य में है, पूर्व-इस्लामी अरबी कविताएं अपने सारगर्भित और समृद्ध शब्द ज्ञान, परिष्कृत छन्द रचना और पूर्ण रूप से विकसित क़ाफ़ियो तथा विषय-वस्तु क्रम के कारण सम्माननीय है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=जाहिलीया&oldid=499570" से लिया गया