कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय  

कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय

कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय (अंग्रेज़ी: University of Cambridge) इंग्लैंड के कैम्ब्रिज शहर में स्थित है। यह अंग्रेजी भाषी देशों में दूसरा सबसे पुराना और यूरोप में चौथा सबसे पुराना विश्वविद्यालय है। इसके साथ 31 कॉलेज, 100 विभाग, फैकल्टीज और सिंडिकेट और 6 स्कूल संबद्ध हैं। इसमें 17000 छात्र पंजीकृत हैं, जिनमें 120 विभिन्न देशों के 1000 अंतरराष्ट्रीय छात्र शामिल हैं।

  • 1209 ई. में शहरवासियों से हुए विवाद की वजह से ऑक्सफोर्ड को छोड़कर निकले प्रबुद्धजनों के संगठन ने कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय की नीव रखी थी।
  • ऑक्सफोर्ड और कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय को संयुक्त रूप से 'ऑक्सब्रिज' कहा जाता है। ब्रिटिश संस्कृति और इतिहास में घुले-मिले दोनों विश्वविद्यालय के बीच प्रतिद्वंदिता का एक लंबा इतिहास है।[1]
  • इस विश्वविद्यालय की खास बात यह भी है कि सन 1904 से अब तक इस विश्वविद्यालय से जुड़े सर्वाधिक 98 विद्वानों ने 'नोबेल पुरस्कार' जीता है। यह उपलब्धि अपने आप में खास है, क्योंकि इतने नोबेल विजेता देने वाला दुनिया का कोई दूसरा संस्थान नहीं है।
  • खास बात यह भी है कि ऐसी कोई कैटेगरी नहीं, जिसका नोबेल पुरस्कार कैम्ब्रिज से जुड़े व्यक्ति ने ना जीता हो।
  • कैम्ब्रिज से जुड़े विद्वानों ने 32 भौतिकी, 26 मेडिसिन, 24 रसायन, 11 अर्थशास्त्र, 3 साहित्य और 2 शांति के लिए पुरस्कार जीते हैं।
  • इस विश्वविद्यालय की डोरोथी हॉडकिन को पहली महिला नोबल पुरस्कार विजेता बनने का गौरव प्राप्त है।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 ये हैं दुनिया की टॉप 10 यूनिवर्सिटीज (हिंदी) navbharattimes.indiatimes। अभिगमन तिथि: 13 जनवरी, 2010।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=कैम्ब्रिज_विश्वविद्यालय&oldid=639105" से लिया गया