कृष्णजी प्रभाकर खाडिलकर  

कृष्णजी प्रभाकर खाडिलकर
खाडिलकर, कृष्णजी प्रभाकर
पूरा नाम कृष्णजी प्रभाकर खाडिलकर
जन्म 25 नवम्बर, 1872
जन्म भूमि सांगली
मृत्यु 26 अगस्त, 1948
कर्म भूमि भारत
मुख्य रचनाएँ 'कीचक वध', 'सवाई माधवराव की मृत्यु', 'भाऊ बंदकी', 'संगीत द्रौपदी' आदि।
भाषा मराठी
प्रसिद्धि नाट्याचार्य
विशेष योगदान खाडिलकरजी प्रखर राष्ट्रभक्त और तेजस्वी संपादक थे। बंबई में उन्होंने 'नवाकाल' नामक दैनिक पत्र को लगभग 16 साल तक सफलता से संपादित किया था।
नागरिकता भारतीय
अन्य जानकारी कृष्णजी प्रभाकर बहुमुखी प्रतिभाशाली विद्यार्थी थे जो परीक्षा में, खेल में और वक्तृत्व की स्पर्धा में सदा चमकते थे।
इन्हें भी देखें कवि सूची, साहित्यकार सूची

खाडिलकर, कृष्णजी प्रभाकर (अंग्रेज़ी: Krushnaji Prabhakar Khadilkar, जन्म- 25 नवम्बर, 1872, सांगली; मृत्यु- 26 अगस्त, 1948) नाट्याचार्य थे। इनका जन्म सांगली में हुआ था। विद्यार्थी अवस्था में ही इनकी नाट्यप्रतिभा चमक उठी। ये बहुमुखी प्रतिभाशाली विद्यार्थी थे जो परीक्षा में, खेल में और वक्तृत्व की स्पर्धा में सदा चमकते थे। हाई स्कूल तथा कॉलेज में पढ़ते हुए इन्होंने संस्कृत तथा अंग्रेजी नाटकों का गहन अध्ययन किया।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. हिन्दी विश्वकोश, खण्ड 3 |प्रकाशक: नागरी प्रचारिणी सभा, वाराणसी |संकलन: भारत डिस्कवरी पुस्तकालय |पृष्ठ संख्या: 310 |

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=कृष्णजी_प्रभाकर_खाडिलकर&oldid=639089" से लिया गया
<