कीर्तिलता  

महाकवि विद्यापति कई भाषाओं के ज्ञाता थे। इनकी अधिकांश रचना संस्कृत एवं अवहट्ट में है। 'कीर्तिलता' और 'कीर्तिपताका' इनकी अवहट्ट रचनाएँ हैं, जिनमें इनके आश्रयदाता कीर्ति सिंह की वीरता, उदारता और गुण ग्राहकता का वर्णन है। परवर्ती अपभ्रंश को ही संभवत: महाकवि ने 'अवहट्ठ' नाम दिया है। महाकवि के पूर्व अद्दहयाण[1] ने भी ‘सन्देशरासक’ की भाषा को अवहट्ठ ही कहा था। कीर्तिलता की रचना महाकवि विद्यापति ठाकुर ने अवहट्ठ में की है और इसमें महाराजा कीर्तिसिंह का कीर्ति कीर्तन किया है। ग्रन्थ के आरम्भ में ही महाकवि लिखते है:

… श्रोतुर्ज्ञातुर्वदान्यस्य कीर्तिसिंह महीपते:।
करोतु कवितु: काव्यं भव्यं विद्यापति: कवि:।। [2]

यह ग्रन्थ प्राचीन काव्य रुढियों के अनुरुप शुक-शुकी-संवाद के रुप में लिखा गया है।

कथानक

कीर्तिसिंह के पिता राम गणेश्वर की हत्या असलान नामक पवन सरदार ने छल से करके मिथिला पर अधिकार कर लिया था। पिता की हत्या का बदला लेने तथा राज्य की पुनर्प्राप्ति के लिए कीर्ति सिंह अपने भाई वीर सिंह के साथ जौनपुर गये और वहाँ के सुल्तान की सहायता से असलान को युद्ध में परास्त कर मिथिला पर पुन: अधिकार किया। जौनपुर की यात्रा, वहाँ के हाट-बाज़ार का वर्णन तथा महाराज कीर्तिसिंह की वीरता का उल्लेख कीर्तिलता में है। इसके वर्णनों में यर्थाथ के साथ शास्त्रीय पद्धति का प्रभाव भी है। वर्णन के ब्यौरे पर ज्योतिर्श्वर के वर्ण 'रत्नाकर' की स्पष्ट छाप है। तत्कालीन राजनीतिक, सामाजिक और सांस्कृतिक स्थिति के अध्ययन के लिए कीर्तिलता से बहुत सहायता ली जा सकती है।

काव्यकला

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. अब्दुल रहमान
  2. अर्थात् महाराज कीर्ति सिंह काव्य सुनने वाले, दान देने वाले, उदार तथा कविता करने वाले हैं। इनके लिए सुन्दर, मनोहर काव्य की रचना कवि विद्यापति करते हैं।
  3. विद्यापति (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 2 जून, 2011।
  4. अर्थात् बाल चन्द्रमा और विद्यापति की भाषा, ये दुर्जनों के हँसने से कलंकित नहीं हो सकते।
  5. कवि और कविता (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 2 जून, 2011।

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=कीर्तिलता&oldid=612959" से लिया गया