केंद्रीय हिंदी निदेशालय  

केंद्रीय हिंदी निदेशालय
केंद्रीय हिंदी निदेशालय
विवरण 'केंद्रीय हिंदी निदेशालय' भारत सरकार का विभाग है, जो मानक हिन्दी के प्रसार के लिए उत्तरदायी है।
स्थापना 1 मार्च, 1960
मुख्यालय नई दिल्ली
अधीन मानव संसाधन विकास मंत्रालय
उद्देश्य हिंदी भाषा को बढ़ावा देना
क्षेत्रीय कार्यालय चेन्नई, कोलकाता, हैदराबाद और गुवाहाटी
अन्य जानकारी निदेशालय हिन्‍दी के प्रचार-प्रसार और विकास के लिए बहुत सी योजनाएं कार्यान्वित कर रहा है।
केंद्रीय हिंदी निदेशालय (अंग्रेज़ी: Central Hindi Directorate) एक सरकारी विभाग है, जो नई दिल्ली में स्थित है। यह निदेशालय भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधीन है। निदेशालय मानक हिन्दी के प्रसार के लिए उत्तरदायी है। यह देवनागरी लिपि के उपयोग और हिन्दी वर्तनी का विनियामन भी करता है। संविधान के अनुच्छेद 351 में हिन्दी भाषा के विकास के लिए दिए गए निर्देश को ध्यान में रखते हुए 1 मार्च, 1960 को निदेशालय की स्थापना की गई थी।

स्थापना

हिन्‍दी का प्रचार-प्रसार करने और भारत के संविधान के अनुच्‍छेद 351 के अनुसरण में समग्र भारत की सम्‍पर्क भाषा के रूप में इसका विकास करने हेतु भारत द्वारा केन्‍द्रीय हिन्‍दी निदेशालय की स्‍थापना 1 मार्च, 1960 में तत्‍कालीन शिक्षा मंत्रालय (अब मानव संसाधन विकास मंत्रालय), उच्‍चतर शिक्षा विभाग के अंतर्गत की गई थी।

मुख्यालय व क्षेत्रीय कार्यालय

केन्‍द्रीय हिन्‍दी निदेशालय का मुख्‍यालय नई दिल्‍ली में स्थित है। इसके क्षेत्रीय कार्यालय चेन्नई, कोलकाता, हैदराबाद और गुवाहाटी में स्थित हैं। इसकी स्‍थापना किए जाने की तारीख से निदेशालय हिन्‍दी के प्रचार-प्रसार और विकास के लिए बहुत सी योजनाएं कार्यान्वित कर रहा है।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=केंद्रीय_हिंदी_निदेशालय&oldid=643190" से लिया गया