कुम्भ राशि  

कलश, कुम्भ राशि का चिह्न

कुम्भ राशि (अंग्रेज़ी:Aquarius) राशि चक्र की यह ग्यारहवीं राशि है। इस राशि का देशांतरीय विस्तार 20.4 से 24 घंटे तक है। 3 डिग्री उत्तर से 25 डिग्री दक्षिण इसका अक्षांशीय विस्तार है। बेबिलोनिया के धर्म कथाओं में इसे समुद्र का देवता कहा गया है।

राशि स्वामी- शनि देव
शुभ रत्न- नीलम
अक्षर- गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा

गुण

  • इस राशि का सकारात्मक पहलू है गहरी अन्तर्दृष्टि, सिद्धांतों और नियम का पालन करना।
  • इसके अंदर ज्ञान का भंडार होता है जो समय और ज़रूरत के समय दिखाई देता है।
  • इन्हें मनोरंजन पंसद होता है।
  • सीखने के प्रति उत्सुक और लगनशील होना।
  • इसका नकारात्मक पहलू है शारीरिक रूप से कमज़ोर दिखना, मन में पराजय की भावना। दूसरों से मिलना जुलना भी इन्हें विशेष पसंद नहीं होता है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=कुम्भ_राशि&oldid=616682" से लिया गया