बघेलखंड  

रीवा, राजगढ़, सतना और शाहडोल प्रशासनिक और वाणिज्यिक केंद्र है, प्रदेश में शहरीकरण का स्तर कम है। अन्य केंद्रों में सोहागपुर नदी द्रोणी में स्थित उमरिया, बड़हर और गौरेला है, बघेलखंड में कोयले के भंडार हैं और खनन भी किया जाता है। प्रदेश के धान उत्पादक क्षेत्र अंबिकापुर, मनेंद्रगढ़ और बैकुंठपुर; कोयला खनन के लिए प्रसिद्ध सिंगरौली, रेणुकूट, पिपरी और दुधी तथा रेल व सड़क संपर्क के विकास और ताप ऊर्जा उत्पादन के लिए प्रसिद्ध ओबरा, दला, सीधी और अगौरी इस क्षेत्र के अन्य केंद्र हैं।  

पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=बघेलखंड&oldid=503146" से लिया गया