पटियाला  

पटियाला का संग्रहालय

पटियाला शहर और ज़िला, पश्चिमोत्तर भारत के दक्षिण-पूर्व पंजाब राज्य में है। 1763 में इसकी स्थापना पटियाला रियासत की राजधानी के रूप में हुई थी। 1948 में इस रियासत का भारतीय संघ में विलय हो जाने के बाद यह पटियाला तथा पूर्वी पंजाब के राज्यों के संघ (पेप्सू) की राजधानी बना और 1966 में पंजाब राज्य में पेप्सू के विलय तक इसकी यही स्थिति बनी रही। आज़ादी के पहले और बाद में पटियाला राजनीतिक, प्रशासनिक और सांस्कृतिक दृष्टि से काफ़ी महत्त्वपूर्ण रहा है। पंजाब की सभी रियासतों में पटियाला सबसे महत्त्वपूर्ण था, वर्तमान ज़िला उसी क्षेत्र का एक हिस्सा है।

कृषि

पटियाला ज़िला, दक्षिण-पूर्वी मालवा के मैदान का हिस्सा है। इसके क्षेत्रफल के लगभग 82 प्रतिशत हिस्से पर खेती होती है, अधिकांश हिस्सों में दो फ़सलें उगाई जाती है। और व्यावहारिक रूप से समूचा क्षेत्र नलकूपों द्वारा सिंचित है। कृषि परिदृश्य में गेहूँ और चावल की प्रधानता है। मक्का, गन्ना और तिलहन अन्य फ़सलें हैं।

उद्योग

राजपुरा इस ज़िले का महत्त्वपुर्ण औद्योगिक शहर है।

सिंचाई और ऊर्जा

काली देवी मंदिर, पटियाला
  • पटियाला के पास से सरहिंद नहर की एक शाखा गुज़रती है।
  • 88 प्रतिशत घरों में बिजली का उपयोग होता है।

संबंधित लेख

 
और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=पटियाला&oldid=284398" से लिया गया