हरियाणा में शिक्षा  

पंजाब की तरह हरियाणा में भी विद्यालय और महाविद्यालय, दोनों स्तरों पर शिक्षा को बढ़ावा देने में सरकार की भूमिका के अलावा निजी संस्थानों ने भी उल्लेखनीय योगदान दिया है। राज्य के विकास कार्यक्रमों में शिक्षा को उच्च प्राथमिकता दी गई है। कला एवं विज्ञान महाविद्यालयों की संख्या 1966-67 में 40 से बढ़कर 1997-98 में 140 हो गई, इस अवधि में उच्च और उच्च्तर माध्यमिक विद्यालयों की संख्या 597 से 3,517; माध्यमिक बुनियादी पाठशालाएं 735 से 1,718 और प्राथमिक बुनियादी पाठशालाओं की संख्या 4,447 से 10, 134 हो गई । विभिन्न स्तरों के ये संस्थान राज्य के 6,759 गाँवों और 94 क़स्बों में स्थित है। इनके अलावा, हरियाणा में अब चार विश्वविद्यालय हैं: कुरूक्षेत्र में कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय, रोहतक में महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय, हिसार में गुरु जंभेश्वर विश्वविद्यालय और विख्यात पशुपालन विज्ञान महाविद्यालय सहित हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय। इसके अलावा, राज्य में डेयरी के सभी उत्पादों के विकास के लिए करनाल में राष्ट्रीय डेयरी शोध संस्थान की स्थापना की गई शिक्षा के विकास में हरियाणा का स्थान भारत के उत्तरी राजय पंजाब, मध्य और कुछ पश्चिमी राज्य में केवल पंजाब के बाद आता है, लेकिन दक्षिण राज्यों के काफ़ी पीछे रहता है।

1991 तक स्थापित विभिन्न स्तरों के संस्थानों की संख्या को देखते हुए शिक्षा कार्यक्रमों से लाभांवित हो रही जनसंख्या का प्रतिशत कम है। 2001 की जनगणना के अनुसार, जनसंख्या का 68.59 प्रतिशत साक्षर है (राष्ट्रीय औसत 65.38 प्रतिशत है)। पिछले दशक में ग्रामीण क्षेत्रों में महिला साक्षरता के मामले में हरियाणा ने काफ़ी लंबा सफ़र तय किया है (2001 में 56.31 प्रतिशत जबकि 1991 में 32.5 प्रतिशत)। अनुसुचित जाति के विद्यार्थियों की शिक्षा के लिए (सानान्य तथा तकनीकी) सरकार द्वारा सभी स्तरों पर सहायता दी जाती है। राज्य में विभिन्न नौकरियों और शिक्षा पाठ्यक्रमों में अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षण का प्रावधान है। इसके अतिरिक्त राज्य सरकार अनुसूचित जाति वर्ग के सदस्यों को कृषि, उद्योग, व्यापार और स्वरोज़गारपरक गतिविधियों के लिए ऋण व अनुदान भी उपलब्ध कराती है। उदाहरण के लिए, 1997-98 में इस उद्देश्य से लगभग 24 करोड़ रूपए खर्च किए।

शिक्षण संस्थान
  • चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्‍वविद्यालय,
  • चौधरी देवी लाल विश्‍वविद्यालय,
  • गुरु जाम्‍बेश्‍वर विश्‍वविद्यालय,
  • कुरुक्षेत्र विश्‍वविद्यालय,
  • महर्षि दयानंद विश्‍वविद्यालय,
  • राष्‍ट्रीय मस्तिष्‍क अनुसंधान केंद्र (मानद विश्‍वविद्यालय),
  • राष्‍ट्रीय डेयरी अनुसंधान संस्‍थान (मानद विश्‍वविद्यालय),
  • राष्‍ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्‍थान (मानद विश्‍वविद्यालय)।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=हरियाणा_में_शिक्षा&oldid=182587" से लिया गया