सिन्धु नदी  

(सिंधु नदी से पुनर्निर्देशित)



सिन्धु नदी
सिन्धु नदी, लेह
अन्य नाम इंडस नदी
देश भारत, पाकिस्तान, चीन
प्रमुख नगर लेह, सुक्कुर, हैदराबाद
लम्बाई 3,200 किलोमीटर
सहायक नदियाँ क़ाबुल नदी, स्वात, झेलम, चिनाब, रावी और सतलुज
पौराणिक उल्लेख ऋग्वेद, रामायण, महाभारत में सिंधु नदी का उल्लेख हुआ है।
गूगल मानचित्र गूगल मानचित्र
अन्य जानकारी यह नदी तिब्बत और कश्मीर के बीच बहती है। नंगा पर्वत के उत्तरी भाग से घूम कर यह दक्षिण पश्चिम में पाकिस्तान के बीच से गुजरती है और फिर जाकर अरब सागर में मिलती है।
Disamb2.jpg सिन्धु एक बहुविकल्पी शब्द है अन्य अर्थों के लिए देखें:- सिन्धु (बहुविकल्पी)

सिन्धु नदी संसार की प्रमुख नदियों में से एक है। तिब्बत के मानसरोवर के निकट सिन-का-बाब नामक जलधारा सिन्धु नदी का उद्गम स्थल है। इस नदी की लंबाई प्रायः 3,200 किलोमीटर है। यहाँ से यह नदी तिब्बत और कश्मीर के बीच बहती है। नंगा पर्वत के उत्तरी भाग से घूम कर यह दक्षिण पश्चिम में पाकिस्तान के बीच से गुजरती है और फिर जाकर अरब सागर में मिलती है।

सिन्धु का शाब्दिक अर्थ

संस्कृत में सिन्धु शब्द के दो मुख्य अर्थ हैं -

  1. सिन्धु नदी का नाम, जो लद्दाख और पाकिस्तान से बहती है
  2. कोई भी नदी या जलराशि।

हिन्द आर्य भाषाओं की 'स' ध्वनि ईरानी भाषाओं की 'ह' ध्वनि में लगभग हमेशा बदल जाती है (ऐसा भाषाविदों का मानना है) । इसलिये सप्त सिन्धु अवेस्तन भाषा (पारसियों की धर्मभाषा) में जाकर हप्त हिन्दू में परिवर्तित हो गया।[1]

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. अवेस्ता: वेन्दीदाद, फ़र्गर्द 1.18
  2. ऋग्वेद10,75,6
  3. ऋग्0 10,75,4
  4. ऋग्0 10,75,3
  5. मेकडानेल्ड-ए हिस्ट्री आव संस्कृत लिटरेचर, पृष्ठ 141
  6. Aeneid, 9,30
  7. मेकडानेल्ड, पृ0 143
  8. वाल्मीकि रामायण बालकाण्ड 43,133
  9. महाभारत भीष्म 9,14
  10. महाभारत सभा पर्व 32,9
  11. श्रीमद् भागवत 5,19,18
  12. रघुवंश 4,67

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=सिन्धु_नदी&oldid=569787" से लिया गया