वाक़यात-ए-बाबरी  

वाक़यात-ए-बाबरी (अंग्रेज़ी: Vakyat-e-Babri) एक ऐतिहासिक पुस्तक है, जिसे मुग़लकालीन समय में लिखा गया था।

  • मध्य एशिया से कूच कर हिन्दुस्तान में मुग़ल वंश की स्थापना तक की उथल-पुथल को लघुचित्रों के रूप में संजोए 'वाक़यात-ए-बाबरी' को लंदनदिल्ली ही नहीं, अलवर ने भी सहेज रखा है।
  • 16वीं सदी की इस ऐतिहासिक पुस्तक में युद्धों का विवरण दिया गया है।
  • अकबर के शासनकालीन प्रति में उन्नीस उच्च कोटि के हिंदू और तीन उच्च कोटि के मुसलमान चित्रकारों का वर्णन है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=वाक़यात-ए-बाबरी&oldid=613946" से लिया गया