लॉर्ड लिनलिथगो  

लॉर्ड लिनलिथगो

लॉर्ड लिनलिथगो का पूरा नाम 'विक्टर अलेक्ज़ेण्डर जॉन होप लिनलिथगो' था। इसका जन्म 24 सितम्बर 1887 ई. में ऐबरकॉर्न, वेस्ट लोथियन, स्कॉटलैण्ड, इंग्लैण्ड में हुआ, और मृत्यु 5 जनवरी, 1952 ई. में ऐबरकॉर्न में हुई थी। लॉर्ड लिनलिथगो ब्रिटिश राजनेता और 1936 ई. से 1943 ई. तक भारत का सबसे लम्बे समय तक वाइसराय रहा, जिसने 'द्वितीय विश्वयुद्ध' के दौरान यहाँ ब्रिटिश उपस्थिति के विरोध का दमन किया। 1908 ई. में इसे 'मार्क्विस' की उपाधि मिली थी। लॉर्ड लिनलिथगो ने जर्मनी के ख़िलाफ़ युद्ध में भारतीय राजनीतिक दलों को एकजुट करने की अपील की थी।

मुख्य घटनाएँ

लॉर्ड लिनलिथगो के समय में पहले चुनाव कराये गये। चुनाव के परिणाम भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के पक्ष में रहे। कांग्रेस ने 11 में से 6 प्रान्तों में सरकार बनाई। 1 सितम्बर, 1939 ई. को द्वितीय विश्वयुद्ध प्रारम्भ हुआ। इस युद्ध में भारतीयों का सक्रिय सहयोग प्राप्त करने के उद्देश्य से लॉर्ड लिनलिथगो ने भारतीय नेताओं के समक्ष 'अगस्त प्रस्ताव' (8 अगस्त, 1940 ई.) रखा, जिसमें भारतीयों को प्रलोभित करने वाले अनेक प्रस्ताव थे। 'भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस' के 'हरिपुरा अधिवेशन' में 19 फ़रवरी, 1938 ई. को सुभाषचन्द्र बोस को अध्यक्ष चुना गया। कांग्रेस के 'त्रिपुरा अधिवेशन' में सुभाषचन्द्र बोस पुनः कांग्रेस के अध्यक्ष चुने गये, परन्तु गाँधी जी के विरोध के चलते उन्होंने त्यागपत्र दे दिया तथा अप्रैल, 1939 ई. मे सुभाषचन्द्र बोस ने 'फ़ारवर्ड ब्लॉक' नाम की एक नई पार्टी का गठन किया। प्रसंगतः उल्लेखनीय है कि सुभाषचन्द्र बोस के त्याग पत्र के पश्चात् डॉ. राजेन्द्र प्रसाद को कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया था। 'द्वितीय विश्व युद्ध' में भारतीयों को सम्मिलित किये जाने के विरोधस्वरूप ही कांग्रेसी मंत्रिमण्डल ने 22 दिसम्बर, 1939 ई. को त्यागपत्र दे दिया। इसी दिन अर्थात् 22 दिसम्बर, 1939 ई. को मुस्लिम लीग द्वारा मुक्ति दिवस के रूप में मनाया गया। लिनलिथगो के समय में पहली बार 1940 ई. में पाकिस्तान की मांग की गई। 1942 ई. में क्रिप्स मिशन भारत आया।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=लॉर्ड_लिनलिथगो&oldid=610380" से लिया गया