लेप्चा भाषा  

लेप्चा भाषा
लेप्‍चा भाषा के अंतर्गत आने वाले व्यंजन
विवरण 'लेप्‍चा भाषा' भारत की संकटग्रस्त भाषाओं में से एक है। सिक्किम तथा दार्जिलिंग के अतिरिक्त यह भाषा भूटाननेपाल में भी बोली जाती है।
बोली क्षेत्र भारत, भूटान व नेपाल
भाषा परिवार लेप्चा
लेखन प्रणाली लेप्चा लिपि तथा तिब्बती वर्णमाला
अन्य जानकारी सिक्किम में प्रचलित लेप्चा भाषा की अपनी लिपि है। लेप्चा भाषा भारत की संकटग्रस्त भाषाओं में से एक है।

लेप्चा पूर्वी नेपाल, पश्चिमी भूटान और भारत के सिक्किम तथा पश्चिम बंगाल राज्य के दार्जिलिंग में रहने वाली जनजाति है। इस जाति द्वारा बोली जाने वाली भाषा को ही लेप्चा भाषा (अंग्रेज़ी: Lepcha Language) कहते हैं। सिक्किम में प्रचलित लेप्चा भाषा की अपनी लिपि है।

उत्पत्ति

  • लेप्चा परंपरा के अनुसार, लेप्चा लिपि का आविष्कार 17वीं शताब्दी के दौरान लेप्चा विद्वान थिकुंग मेन सोलोंग द्वारा किया गया था। लिपि के आविष्कारक शायद बौद्ध मिशनरियों से प्रेरित थे।
  • एक और सिद्धांत यह है कि 18वीं शताब्दी के प्रारंभिक वर्षों के दौरान यह लिपि विकसित हुई।
  • आज लेप्चा लिपि का प्रयोग अखबारों, पत्रिकाओं, पाठ्यपुस्तकों, कविता संग्रह, गद्य और नाटकों में किया जाता है।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. LM Languages (हिन्दी) language-museum.com। अभिगमन तिथि: 27 दिसम्बर, 2017।

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=लेप्चा_भाषा&oldid=616312" से लिया गया