लांगुरिया नृत्य  

लांगुरिया नृत्य राजस्थान के प्रसिद्ध लोक नृत्यों में से एक है। यह 'कैला देवी करौली' के मेले में किया जाने वाला प्रसिद्ध नृत्य है।

  • लांगुरिया श्रीराम के भक्त हनुमान का लोक स्वरूप है और कैला माता को उनकी माँ अंजनी का अवतार माना जाता है।
  • इस नृत्य के दौरान नफीरी व नौबत बजाई जाती है।
  • लांगुरिया प्राय: देवी माँ के साथ किया जाने वाला स्त्री-पुरुषों का सामूहिक नृत्य है, लेकिन समूह में व्यक्तिगत भंगिमाएँ प्रदर्शित होती हैं।
  • यह नृत्य करौली क्षेत्र में 'नवरात्रों' के दिनों में विशेषतौर पर किया जाता है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=लांगुरिया_नृत्य&oldid=593745" से लिया गया