राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र  

राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र
एनआईसी का प्रतीक चिह्न
अन्य नाम एनआईसी (NIC)
उद्देश्य सरकारी मंत्रालयों तथा विभागों में कम्प्यूटर आधारित निर्णय लेने में सहायक प्रणाली (सूचना-विज्ञान विकास) को शुरू करने के लिए।
स्थापना 1976
मुख्यालय नई दिल्ली
अन्य जानकारी राष्ट्रीय सूचना-विज्ञान केन्द्र ने मई, 2003 में एन आई सी मुख्यालय में प्रमाणन प्राधिकरण की प्रतिष्ठापना की है, जिसमें जीव-सांख्यिकी सेंसर से पूर्ण अत्याधुनिक सुरक्षित अवसंरचना और अंतर्राष्ट्रीय मानकों की निगरानी प्रणाली शामिल है।
बाहरी कड़ियाँ आधिकारिक वेबसाइट

राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र अथवा एनआईसी (अंग्रेज़ी:National Informatics Centre) भारत सरकार का एक प्रमुख वैज्ञानिक व तकनीकी संस्थान है जिसकी 1976 में सरकारी क्षेत्र में बेहतर पद्धतियों, एकीकृत सेवाओं तथा विश्वव्यापी समाधानों को अपनाने वाली ई-सरकार/ई-शासन संबंधी समाधानों को प्रदान करने के लिए स्थापना की गयी।

उद्देश्य

वर्ष 1975 में, भारत सरकार ने सामाजिक विकास तथा आर्थिक संवर्धन को बढ़ावा देने के लिए कार्यक्रम कार्यान्वयन तथा नियोजन की सुविधा मुहैया कराने हेतु सरकारी मंत्रालयों तथा विभागों में कम्प्यूटर आधारित निर्णय लेने में सहायक प्रणाली (सूचना-विज्ञान विकास) को शुरू करने के लिए तथा सूचना संसाधनों की उपयोगिता तथा सूचना प्रणालियों के विकास हेतु प्रभावी कदम उठाने के लिए उपयुक्त निर्णय लिये। इसके पश्चात्, केन्द्र सरकार ने 1976 में तथा उसके बाद यू.एस. $ 4.1 मिलियन की संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) की वित्तीय सहायता से “राष्ट्रीय सूचना-विज्ञान केन्द्र (एनआईसी)” नामक एक उच्च प्राथमिकता योजना परियोजना तैयार की।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. राष्ट्रीय सूचना-विज्ञान केन्द्र,भारत सरकार का प्रमुख आईसीटी संगठन (हिन्दी) एनआईसी। अभिगमन तिथि: 18 सितंबर, 2012।

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=राष्ट्रीय_सूचना_विज्ञान_केन्द्र&oldid=617543" से लिया गया