रामा राघोबा राणे  

रामा राघोबा राणे
रामा राघोबा राणे
पूरा नाम सेकेंड लेफ़्टिनेंट रामा राघोबा राणे
जन्म 26 जून, 1918
जन्म भूमि हवेली गाँव, धारवाड़ ज़िला, कर्नाटक
मृत्यु 11 जुलाई, 1994 (आयु- 76)
स्थान पुणे, महाराष्ट्र
सेना भारतीय थल सेना
रैंक मेजर
यूनिट बॉम्बे इंजीनियर्स
सेवा काल 1940–1968 (28 वर्ष)
युद्ध भारत-पाकिस्तान युद्ध (1947)
सम्मान परमवीर चक्र (1948)
नागरिकता भारतीय
अन्य जानकारी यह बाम्बे इंजीनियर्स से जुड़े हुए थे और इन्हें राजौरी को फिर से फ़तह करने के सम्बन्ध में याद किया जाता है।

सेकेंड लेफ़्टिनेंट रामा राघोबा राणे (अंग्रेज़ी: Second Lieutenant Rama Raghoba Rane, जन्म: 26 जून, 1918 - मृत्यु: 11 जुलाई, 1994) परमवीर चक्र से सम्मानित भारतीय सैनिक हैं। इन्हें यह सम्मान सन् 1948 में मिला था।

जीवन परिचय

राघोबा राणे का जन्म 26 जून 1918 को धारवाड़ ज़िले के हवेली गाँव में हुआ था। उनकी प्रारम्भिक शिक्षा, पिता के एक स्थान से दूसरे स्थान पर स्थानांतरण (ट्रांसफ़र) के कारण बिखरी-बिखरी सी हुई। तभी 1930 में असहयोग आन्दोलन शुरू हुआ जिससे राघोबा राणे बेहद प्रभावित हुए और ऐसा लगा कि वह इस आन्दोलन में सब कुछ छोड़कर कूद पड़ेंगे। लेकिन इस स्थिति के आने के पहले ही इनके पिता अपने परिवार सहित अपने पैतृक गाँव चेंडिया आ गए।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  • पुस्तक- परमवीर चक्र विजेता, लेखक- अशोक गुप्ता, पृष्ठ संख्या- 43

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=रामा_राघोबा_राणे&oldid=632695" से लिया गया