राजमहल झारखंड  

राजमहल झारखंड
अकबर मस्जिद, राजमहल
विवरण 'राजमहल' झारखंड राज्य में गंगा नदी के पश्चिम में स्थित है। मानसिंह ने 1595-1596 में इस जगह को अपनी राजधानी के रूप में चुना था।
राज्य झारखंड
मध्यकालीन नाम 'उगमहल'
क्या देखें अकबर मस्जिद, मीर कासिम महल
अन्य जानकारी राजमहल की पहाड़ियाँ लगभग 567 मीटर की ऊँचाई तक उठती हैं, जो गंगा नदी से 190 किलोमीटर उत्तर-दक्षिण में लगभग दुमका तक फैली हुई हैं।

राजमहल पूर्वोत्तर भारत के झारखंड राज्य में गंगा नदी के पश्चिम में स्थित है। मध्य काल में राजमहल का नाम 'उगमहल' था। झारखंड का यह प्रसिद्ध शहर राजमहल की पहाड़ियों में स्थित हैं, जो गंगा नदी से 190 किलोमीटर उत्तर-दक्षिण में लगभग दुमका तक फैली हुई हैं।

  • राजमहल पहाड़ियाँ लगभग 567 मीटर की ऊँचाई तक उठती हैं।
  • 'सोरिया' पहाड़ी लोगों का राजमहल की पहाड़ियों में वास है। घाटियों में संथाल जनजाति द्वारा कृषि की जाती है।
  • मध्यकालीन भारत में बंगाल के सूबेदार और मुग़ल सेनापति मानसिंह ने तेलियगढ़ दर्रे और गंगा नदी पर सामरिक नियंत्रण के लिए 1595-1596 में इस जगह को अपनी राजधानी के रूप में चुना था।
  • 1608 में बंगाल की राजधानी 'डक्का' (वर्तमान ढाका) स्थानांतरित हो गई, लेकिन अस्थायी तौर पर 1639 से 1660 के बीच राजमहल ने अपनी प्रशासनिक स्थिति को वापस हासिल कर लिया था।
  • राजमहल में बादशाह अकबर की ऐतिहासिक महत्त्व की 'अकबर मस्जिद' (लगभग 1600 ई.) और बंगाल के नवाब मीर क़ासिम का महल है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

वीथिका

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=राजमहल_झारखंड&oldid=358945" से लिया गया