रमा शंकर व्यास  

रमा शंकर व्यास
रमा शंकर व्यास
पूरा नाम रमा शंकर व्यास
जन्म 31 मार्च, 1860
जन्म भूमि काशी, उत्तर प्रदेश
मृत्यु 1916
अभिभावक पिता- पण्डित गौरी प्रसाद
कर्म भूमि भारत
मुख्य रचनाएँ ‘खगोल दर्पण’, ‘नेपोलियन की जीवनी’, ‘बात की करामात’, 'राय दुर्गा प्रसाद का जीवन चरित्र’ आदि।
प्रसिद्धि साहित्यकार
नागरिकता भारतीय
संबंधित लेख कविवचन सुधा, भारतेन्दु हरिश्चन्द्र
इन्हें भी देखें कवि सूची, साहित्यकार सूची

रमा शंकर व्यास (जन्म- 31 मार्च, 1860, काशी; मृत्यु- 1916) हिन्दी के उत्कृष्ट लेखकों में गिने जाते थे। काशी (वर्तमान बनारस) में जन्में रमा शंकर व्यास पण्डित गौरी प्रसाद के पुत्र थे।[1]

  • राम शंकर व्यास की प्रमुख कृतियाँ इस प्रकार हैं-
  1. ‘खगोल दर्पण’
  2. ‘वाक्य पंचाशिका’
  3. ‘नेपोलियन की जीवनी’
  4. ‘बात की करामात’
  5. वेनिस का बाँका’
  6. ‘चन्द्रास्त
  7. ‘नूतन पाठ’
  8. 'राय दुर्गा प्रसाद का जीवन चरित्र’

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. काशी कथा, साहित्यकार (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 10 जनवरी, 2014।

संबंधित लेख