मेजर विनसेण्ट आयर  

  • मेजर विनसेण्ट आयर (जन्म- 1811 ई.; मृत्यु- 1881 ई.) बंगाल तोपख़ाने का अफ़सर था।
  • यह अफ़सर होकर 1828 ई. में भारत आया था।
  • उसने 1839-42 ई. में काबुल पर अंग्रेज़ों के आक्रमण में भाग लिया।
  • इसके बाद में उसका स्थानान्तरण बर्मा (वर्तमान म्यांमार) के लिए हो गया।
  • जब भारत में 1857 ई. में प्रथम स्वाधीनता संग्राम छिड़ा, तो उसे फिर से वापस भारत बुला लिया गया।
  • जब वह लौट रहा था, तो उसने सुना कि जगदीशपुर के कुवँर सिंह ने आरा को घेर रखा है।
  • उसने अपनी ज़िम्मेदारी पर सेना एकत्र कर कुवँरसिंह को पराजित किया।
  • इसके बाद वह लखनऊ गया, जहाँ उसने 1858 ई. में अंग्रेज़ों को विजयी बनाने में सहायता दी।
  • वह 1863 ई. में अवकाश पर चला गया।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=मेजर_विनसेण्ट_आयर&oldid=311760" से लिया गया