मीरां  

मीरां
मीरां
पूरा नाम मीरांबाई
जन्म 1498
जन्म भूमि मेड़ता, राजस्थान
मृत्यु 1547
अभिभावक रत्नसिंह
पति/पत्नी कुंवर भोजराज
कर्म भूमि वृन्दावन
मुख्य रचनाएँ बरसी का मायरा, गीत गोविंद टीका, राग गोविंद, राग सोरठ के पद
विषय कृष्णभक्ति
भाषा ब्रजभाषा
नागरिकता भारतीय
इन्हें भी देखें कवि सूची, साहित्यकार सूची
मीरांबाई की रचनाएँ

मीरांबाई अथवा मीराबाई हिन्दू आध्यात्मिक कवयित्री थीं, जिनके भगवान श्रीकृष्ण के प्रति समर्पित भजन उत्तर भारत में बहुत लोकप्रिय हैं। भजन और स्तुति की रचनाएँ कर आमजन को भगवान के और समीप पहुँचाने वाले संतों और महात्माओं में मीराबाई का स्थान सबसे ऊपर माना जाता है। मीरा का सम्बन्ध एक राजपूत परिवार से था। वे राजपूत राजकुमारी थीं, जो मेड़ता महाराज के छोटे भाई रतन सिंह की एकमात्र संतान थीं। उनकी शाही शिक्षा में संगीत और धर्म के साथ-साथ राजनीति व प्रशासन भी शामिल थे। एक साधु द्वारा बचपन में उन्हें कृष्ण की मूर्ति दिए जाने के साथ ही उनकी आजन्म कृष्ण भक्ति की शुरुआत हुई, जिनकी वह दिव्य प्रेमी के रूप में आराधना करती थीं।

जन्म तथा शिक्षा

प्रसिद्ध कृष्ण भक्त कवयित्री मीराबाई जोधपुर, राजस्थान के मेड़वा राजकुल की राजकुमारी थीं। विद्वानों में इनकी जन्म-तिथि के संबंध में मतैक्य नहीं है। कुछ विद्वान् इनका जन्म 1430 ई. मानते हैं और कुछ 1498 ई.। मीराबाई मेड़ता महाराज के छोटे भाई रतन सिंह की एकमात्र संतान थीं। उनका जीवन बड़े दु:ख और कष्ट में व्यतीत हुआ था। मीरा जब केवल दो वर्ष की थीं, उनकी माता की मृत्यु हो गई। इसलिए इनके दादा राव दूदा उन्हें मेड़ता ले आए और अपनी देख-रेख में उनका पालन-पोषण किया। राव दूदा एक योद्धा होने के साथ-साथ भक्त-हृदय व्यक्ति भी थे और साधु-संतों का आना-जाना इनके यहाँ लगा ही रहता था। इसलिए मीरा बचपन से ही धार्मिक लोगों के सम्पर्क में आती रहीं। इसके साथ ही उन्होंने तीर-तलवार, जैसे- शस्त्र-चालन, घुड़सवारी, रथ-चालन आदि के साथ-साथ संगीत तथा आध्यात्मिक शिक्षा भी पाई।[1]

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 1.2 1.3 मीराबाई की वाणी में संगीत (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 16 मार्च, 2013।
  2. कपूर, श्यामचंद्र “अध्याय-9, सगुण धारा (कृष्ण भक्ति शाखा)”, हिंदी साहित्य का इतिहास (हिंदी)। भारत डिस्कवरी पुस्तकालय: ग्रंथ अकादमी, नई दिल्ली, 144।
  3. माधुर्य भाव की उपासिका : मीराबाई (हिंदी) वेबदुनिया। अभिगमन तिथि: 18 मार्च, 2013।
  4. 4.0 4.1 4.2 हिन्दी की महान् कवियित्री मीराबाई (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 16 मार्च, 2013।
  5. माधुर्य भाव की उपासिका : मीराबाई (हिंदी) वेबदुनिया। अभिगमन तिथि: 18 मार्च, 2013।
  6. पिछले जन्म में भी मीरा करती थीं कृष्ण से प्रेम (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 15 मार्च, 2013।
  7. मीराबाई (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 15 मार्च, 2013।
  8. पदावली (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 15 मार्च, 2013।
  9. वाणी जयराम बनी मीरा की आवाज़ (हिन्दी)। । अभिगमन तिथि: 15 मार्च, 2013।

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=मीरां&oldid=613101" से लिया गया