मिताली राज  

मिताली राज विषय सूची
मिताली राज    परिचय    क्रिकेट कॅरियर
मिताली राज
मिताली राज
व्यक्तिगत परिचय
पूरा नाम मिताली राज
जन्म 3 दिसम्बर, 1982
जन्म भूमि जोधपुर, राजस्थान
खेल परिचय
बल्लेबाज़ी शैली दाएँ हाथ से बल्लेबाज़ी
गेंदबाज़ी शैली दाएँ हाथ से लेगब्रेक
टीम भारतीय महिला क्रिकेट टीम, एयर इंडिया महिला टीम, एशिया महिला एकादश, इंडिया ब्ल्यू महिला टीम।
भूमिका हरफनमौला
पहला टेस्ट 14 जनवरी, 2002 विरुद्ध इंग्लैंड
पहला वनडे 26 जून, 1999 विरुद्ध आयरलैंड
कैरियर आँकड़े
प्रारूप टेस्ट क्रिकेट एकदिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय टी-20 अन्तर्राष्ट्रीय
मुक़ाबले 10 182 63
बनाये गये रन 663 5959 1708
बल्लेबाज़ी औसत 51.00 51.37 37.95
100/50 1/4 5/48 0/10
सर्वोच्च स्कोर 214 114 नाबाद 73 नाबाद
फेंकी गई गेंदें 72 171 6
विकेट 0 8 0
गेंदबाज़ी औसत - 11.37 -
पारी में 5 विकेट - - -
मुक़ाबले में 10 विकेट - - -
सर्वोच्च गेंदबाज़ी - 3/4 -
कैच/स्टम्पिंग 11/- 44/- 16/-
अन्य जानकारी मिताली राज ने एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में 1999 में पहली बार भाग लिया था। यह मैच मिल्टन कीनेस, आयरलैंड में हुआ था, जिसमें मिताली ने नाबाद 114 रन बनाए थे।
अद्यतन

मिताली राज (अंग्रेज़ी: Mithali Raj, जन्म: 3 दिसम्बर 1982) भारतीय महिला क्रिकेट खिलाड़ी और कप्तान हैं। वे टेस्ट क्रिकेट मैच में दोहरा शतक बनाने वाली पहली महिला क्रिकेट खिलाड़ी हैं। मिताली का मानना है कि "महिला क्रिकेट को बढ़ावा देने की आवश्यकता है। उसके लिए अच्छे स्पांसर को आगे आना चाहिए।" मिताली टेलीविजन पर क्रिकेट केवल इसलिए देखती हैं ताकि सचिन तेंदुलकर के बल्ले का जादू देख सकें और उसी प्रकार के कुछ शाट्स खेल सकें। उन्हें सचिन के 'स्ट्रेट ड्राइव' और 'स्केवयर कट' बहुत पसन्द हैं।

परिचय

मिताली राज का जन्म 3 दिसम्बर, 1982 को जोधपुर, राजस्थान में हुआ था। उन्होंने 'भरतनाट्यम' नृत्य में भी प्रशिक्षण प्राप्त किया है और अनेक स्टेज कार्यक्रम दिए हैं। क्रिकेट के कारण वह अपनी भरतनाट्यम् नृत्य कक्षाओं से बहुत समय तक दूर रहती थीं। तब नृत्य अध्यापक ने उन्हें क्रिकेट और नृत्य में से एक को चुनने की सलाह दी। उनकी माँ लीला राज एक अधिकारी थीं। उनके पिता धीरज राज डोराई राज बैंक में नौकरी करने के पूर्व एयर फोर्स में थे। वे स्वयं भी क्रिकेटर रहे हैं, उन्होंने मिताली को प्रोत्साहित करने के लिए हर संभव प्रयत्न किया। उन्होंने मिताली के यात्रा खर्च उठाने के लिए अपने खर्चों में कटौती की। इसी प्रकार उनकी माँ लीला राज को भी अनेक कुर्बानियाँ बेटी के लिए देनी पड़ीं। उन्होंने बेटी की सहायता हेतु अपनी नौकरी छोड़ दी ताकि जब खेलों के अभ्यास के पश्चात् थकी-हारी लौटे तो वह अपनी बेटी का ख्याल रख सकें।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

मिताली राज विषय सूची
मिताली राज    परिचय    क्रिकेट कॅरियर
और पढ़ें
"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=मिताली_राज&oldid=614675" से लिया गया