महाधरम सरोवर  

महाधरम सरोवर कुंभकोणम, तमिलनाडु में स्थित है। यह सरोवर श्रद्धालुओं के लिए अत्यंत पावन स्थल है। कुंभकोणम में लगने वाले कुंभ मेले में स्नान के समय यह सरोवर ही स्नान के लिए सबसे उत्तम स्थल माना जाता है। यहाँ आने वाले तीर्थयात्री इस सरोवर के पवित्र जल में स्नान करके खुद को शुद्ध करते हैं।

मान्यता

महाधरम सरोवर को 'नवगंगा कुंण्ड' भी कहा जाता है। एक मान्यता के अनुसार यहाँ कुंभ पर्व के समय नौ नदियों- गंगा, यमुना, सरस्वती, गोदावरी, सरयू, महानदी, नर्मदा, कावेरी और पयोष्णी का संगम हो जाता है। यह नवगंगा यहाँ स्नान करने आती हैं तथा अनंत पापों को नष्ट करती हैं। इसके साथ ही यहाँ स्वयं भगवान शिव, विष्णु व अन्य देवता आदि कुंभ के पावन पर्व के समय यहाँ आकर निवास करते हैं।

घाट तथा मन्दिर

महाधरम कुंड के बारे मे कहा जाता है कि कुंभ पर्व के समय इस सरोवर के जल में गंगाजी का प्रादुर्भाव होता है और कुंड के नीचे से पवित्र जलधारा बहती है। इस सरोवर के चारों ओर घाटों का निर्माण किया गया है तथा इसके चारों तरफ़ मंदिर बने हुए हैं, जहाँ पर सभी तीर्थयात्री पूजा-अर्चना आदि करते हैं और मन्नत आदि मांनते हैं।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=महाधरम_सरोवर&oldid=571735" से लिया गया