मदर इंडिया  

मदर इंडिया
Mother-India.jpg
निर्देशक महबूब ख़ाँ
निर्माता महबूब ख़ाँ
लेखक महबूब ख़ाँ,वज़ाहत मिर्ज़ा, एस अली रज़ा
कलाकार नर्गिस, राजकुमार, राजेन्द्र कुमार, सुनील दत्त और कन्हैया लाल
प्रसिद्ध चरित्र सुक्खी लाला
संगीत नौशाद
गीतकार शकील बदायूंनी
गायक लता मंगेशकर, शमशाद बेगम, मुहम्मद रफ़ी और मन्ना डे
प्रसिद्ध गीत दुनिया में जब आये हैं तो…, मतवाला जिया, ओ मेरे लाल आजा
छायांकन फ़रूदन ए ईरानी
संपादन शमसुदीन क़ादरी
वितरक महबूब प्रोडक्शंस
प्रदर्शन तिथि 14 फ़रवरी, 1957
अवधि 172 मिनट
भाषा हिन्दी
पुरस्कार कारलोवेरी अंतरराष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव:- सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री; फ़िल्मफ़ेयर:- सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म, सर्वश्रेष्ठ निर्देशक पुरस्कार, सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार, सर्वश्रेष्ठ छायाकार पुरस्कार, सर्वश्रेष्ठ ध्वनि पुरस्कार
बजट 40,00,000 रुपये

मदर इंडिया महबूब ख़ान के द्वारा निर्देशित एक विख्यात हिन्दी फ़िल्म है, इसका प्रदर्शन 1957 में हुआ था।

कथावस्तु

1940 में फ़िल्म "औरत" में महबूब एक आम हिंदुस्तानी औरत के संघर्ष और हौसले को सलाम करते हैं और उसे एक ऐसी जीवन वाली महिला के रूप में पेश करते हैं, जो विपरीत हालात में भी डटकर खड़ी रहती है। इस फ़िल्म में एक गाँव की कहानी है, जिसमें एक कुटिल और लालची साहूकार अपनी हवस पूरी करने के लिए किसान परिवार की एक स्त्री पर अत्याचार करता है। सत्रह साल बाद यानी 1957 में महबूब ने इसी फ़िल्म का नया संस्करण "मदर इंडिया" शीर्षक के साथ बनाया। "औरत" की तरह "मदर इंडिया" को भी अपार सफलता हासिल हुई और इस फ़िल्म ने महबूब को भारतीय सिने इतिहास में अमर कर दिया।

नर्गिस (राधा), मास्टर साजिद ख़ान (बिरजू) और मास्टर सुरेन्द्र (रामू)
Nargis (Radha), Master Sajid Khan (Birju), Master Surendra (Ramu)

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. सरार गांव में ही महबूब का जन्म हुआ था
  2. ऐसे बनी "मदर इंडिया" (हिन्दी) पत्रिका। अभिगमन तिथि: 27 अगस्त, 2010
  3. फ़िल्मफेअर / 25 अप्रेल 1958
  4. नियोगी बुक्स, नई दिल्ली से प्रकाशित नसरीन मुन्नी कबीर की पुस्तक "द डायलॉग ऑफ़ मदर इंडिया" के कुछ अंश।
  5. लेखिका और डॉक्यूमेंट्री फ़िल्मकार नसरीन मुन्नी कबीर ने मेहबूब ख़ान की इस क्लासिक फ़िल्म के संवादों को एक किताब की शक्ल में संजोया है। वे इससे पहले भी सिनेमा पर कई किताबें लिख चुकी हैं, जिनमें शामिल हैं वर्ष 1996 में प्रकाशित गुरुदत्त : अ लाइफ इन सिनेमा, वर्ष 2009 में प्रकाशित लता मंगेशकर : इन हर ओन वॉइस में प्रकाशित द डायलॉग ऑफ़ आवारा : राज कपूर्स इम्मोर्टल क्लासिक। उनकी नई किताब में मदर इंडिया के संवादों के साथ ही शकील बदायूंनी के सदाबहार गीतों को भी देवनागरी, उर्दू और रोमन लिपि में जगह दी गई है।
  6. मदर इंडिया का चरित्र गढ़ने वाले महारथी (हिन्दी) (एच.टी.एम.एल) दैनिक भास्कर। अभिगमन तिथि: 27 अगस्त, 2010
  7. भारतीय नारी को सशक्त रूप देने वाली अभिनेत्री थीं नर्गिस (हिन्दी) (एच.टी.एम.एल) हिंदुस्तान। अभिगमन तिथि: 27 अगस्त, 2010
  8. मदर इंडिया से चमका सुनील दत्त का सितारा (हिन्दी) ख़ास खबर। अभिगमन तिथि: 27 अगस्त, 2010
और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=मदर_इंडिया&oldid=592942" से लिया गया