भारतीय संस्कृति और एशिया  

भारतीय संस्कृति विश्व की प्राचीनतम संस्कृतियों में से एक है। यह माना जाता है कि भारतीय संस्कृति यूनान, रोम, मिस्र, सुमेर और चीन की संस्कृतियों के समान ही प्राचीन है। कई भारतीय विद्वान् तो भारतीय संस्कृति को विश्व की सर्वाधिक प्राचीन संस्कृति मानते हैं। दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों में भारतीय संस्कृति के प्रसार का विवरण निम्नलिखित है-

ब्रह्मा / बर्मा / म्यांमार

दक्षिण-पूर्वी एशिया या 'सुवर्ण भूमि' का एक अंग ब्रह्मा या बर्मा था, जहाँ भारतीय संस्कृति का प्रवेश प्राचीनकाल में ही हो चुका था। ईसवी सन् के आरम्भ होने से पहले ही बर्मा के साथ भारत के सम्पर्क में वृद्धि हुई। कलिंग प्रदेश से व्यापारियों की बड़ी संख्या वहाँ व्यापार करने के लिए जाती रहती थी। सम्राट अशोक ने बौद्ध धर्म के प्रचारक मण्डल को वहाँ भेजा तथा बौद्ध धर्म का प्रचार कराया। 450 ई. में श्रीलंका से 'आचार्य बुद्धघोष' ने वहाँ जाकर हीनयान मत की स्थापना की। बर्मा में विष्णु की मूर्ति प्राप्त हुई है, जिससे सिद्ध होता है कि उस देश में हिन्दू धर्म का प्रचार हुआ था। वहाँ गुप्त युग के हिन्दूबौद्ध अवशेषों की पेगू, प्रोम आदि विभिन्न स्थानों में प्राप्ति हुई है। बर्मा के शासकों में ग्यारहवीं शताब्दी के शासक अनिरुद्ध का नाम सर्वाधिक प्रसिद्ध है, जो बौद्ध मतानुयायी था तथा जिसने अनेक पैगोडा एवं मठों का निर्माण करवाया।

स्याम

वर्तमान काल में यह देश 'थाईलैण्ड' के नाम से प्रख्यात है। इसके केन्द्रीय प्रदेश में 'अमरावती' नामक एक हिन्दू राज्य की स्थापना की गई थी। जिसने द्रुत गति से प्रसार करते हुए सम्पूर्ण देश पर अपना प्रभाव स्थापित किया। इसके पड़ोसी देश 'कम्बोडिया' में पहले ही बौद्ध धर्म विकसित हो चुका था। भारतीय संस्कृति और कला का इस देश में विशेष प्रभाव दृष्टिगोचर होता है। हिन्दू और बौद्ध धार्मिक साहित्य तथा कला ने स्याम देश की भाषा, कला, साहित्य और सामाजिक संस्थाओं को अत्यधिक प्रभावित किया। यहाँ अमरावती शैली, गुप्तकालीन कला और पल्लव लिपि में अंकित बौद्ध धर्म के सिद्धान्तों के अवशेषों की प्राप्ति हुई, जिनसे भारतीय संस्कृति के प्रसार का परिचय प्राप्त होता है। वहाँ के शासक का राज्याभिषेक वर्तमान काल में भी ब्राह्मण पुरोहित द्वारा ही सम्पन्न किया जाता है।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=भारतीय_संस्कृति_और_एशिया&oldid=600613" से लिया गया