बीजापुर  

गोल गुम्बद, बीजापुर

बीजापुर उत्तरी कर्नाटक (भूतपूर्व मैसूर) राज्य का एक शहर है। बीजापुर नगर का प्राचीन नाम 'विजयपुर' कहा जाता है। मध्य कालीन मुस्लिम स्थापत्य कला का यह महत्त्वपूर्ण स्थल, पहले विजयपुर कहलाता था। बहमनी राजवंश की प्रांतीय राजधानी बनने से पहले, 1294 तक, एक शाताब्दी से भी अधिक समय तक यादव वंश के अंतर्गत यह एक महत्त्वपूर्ण नगर था।

स्थापना

बहमनी राजवंश के पतन के बाद बने 5 नये राज्यों में बीजापुर का विशेष स्थान था। इस स्वतंत्र राज्य की स्थापना 1489 ई. में यूसुफ़ आदिलशाह ने की। यह धार्मिक रूप से सहिष्णु एवं न्यायप्रिय शासक था। इसके दरबार में ईरान, मध्य एशिया, तुर्किस्तान से विद्वानों का आना-जाना लगा रहता था। इसके बाद के 3 उत्तराधिकारी 'इस्माईल आदिलशाह' (1510 सें 1534 ई.), 'इब्राहिम आदिलशाह' (1535 से 1558 ई.), 'अली आदिलशाह प्रथम' (1558 से 1580) अयोग्य थे। इब्राहिम आदिलशाह ने फ़ारसी के स्थान पर 'हिन्दवी' (दक्कनी उर्दू) को राजभाषा बनाया और शासन में अनेक हिन्दुओं को नियुक्त किया। अली आदिलशाह का विवाह अहमदनगर के 'हुसैन निज़ामशाह' की पुत्री चाँदबीबी से हुआ था।

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=बीजापुर&oldid=596125" से लिया गया