परभणी  

परभणी नगर महाराष्ट्र राज्य मनमाड़-हैदराबाद के रेलमार्ग पर, दुधना नदी से लगभग 16 किमी दक्षिणी में स्थित है। परभणी का संबंध प्रभावती मंदिर से है, जिसे मुग़लकाल में जबरन मस्जिद बना दिया गया।

प्रमुख स्थल

एक औद्योगिक क्षेत्र की स्थापना के साथ ही परभणी नगर आधुनिक उधोगों के लिए लगातार आकर्षक बनता जा रहा है। शिवाजी उद्यान, रोशन ख़ान का क़िला और हज़रत सैयद शाह तुराबत की मज़ार (शहर से तीन किमी दूर) यहाँ के प्रमुख स्थल हैं।

कृषि

परभणी के आसपास का क्षेत्र पूर्णा, दुधना और गोदावरी नदियों के कारण महत्त्वपूर्ण है। ज्वार यहाँ की मुख्य फ़सल है, जिसके बाद गेहूँ, बाजरा, कपास, दलहन, तिलहन का स्थान आता है। यहाँ गन्ने की खेती का प्रचलन भी बढ़ गया है। यल्दारी और सिद्धेश्वर में बांधों के निर्माण से कृषि उत्पादन में वृद्धि हुई है। औद्योगिक विकास निगम कपास ओटाई और गांठ बनाने को बढ़ावा दे रहा है तथा कई छोटे स्थानों पर कारख़ाने स्थापित हो रहे हैं।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=परभणी&oldid=528183" से लिया गया