नौचन्दी मेला  

नौचन्दी मेला
नौचन्दी मेला, मेरठ
विवरण यह मेला प्रति वर्ष लगता है और यह ऐतिहासिक हिन्दू-मुस्लिम एकता का प्रतीक है।
समय चैत्र मास के नवरात्रि त्यौहार से एक सप्ताह पहले से (अमूमन अप्रैल में), लगभग होली के एक सप्ताह बाद लगता है और एक माह तक चलता है।
स्थान मेरठ, उत्तर प्रदेश
अन्य जानकारी नौचन्दी यानी नव चंडी। इसी नाम से यहाँ एक मंदिर भी है। बगल में ही बाले मियां की मजार है। जहाँ मंदिर में रोजाना भजन-कीर्तन होते हैं वहीं मजार में कव्वाली व कवि सम्मलेन।
नौचन्दी मेला उत्तर प्रदेश के प्रसिद्ध मेलों में से एक है। यह मेला मेरठ में प्रति वर्ष लगता है। यहां का ऐतिहासिक नौचंदी मेला हिन्दू-मुस्लिम एकता का प्रतीक है। हजरत बाले मियां की दरगाह एवं नवचण्डी देवी (नौचन्दी देवी) का मंदिर एक दूसरे के निकट ही स्थित हैं। मेले के दौरान मंदिर के घण्टों के साथ अजान की आवाज़ एक सांप्रदायिक अध्यात्म की प्रतिध्वनि देती है। यह मेला चैत्र मास के नवरात्रि त्यौहार से एक सप्ताह पहले से, लगभग होली के एक सप्ताह बाद लगता है और एक माह तक चलता है।
नौचन्दी मेला

इतिहास

नौचन्दी मेले का स्वरूप पौराणिक मेरठ के इतिहास से जुड़ा है। मुग़ल काल से चले आ रहे नौचंदी मेले ने शहर के कई स्वतंत्रता आंदोलनों को महसूस किया। स्वतंत्रता सेनानियों के संघर्ष की जहां नौचंदी गवाह बनी। वहीं शहादत के दर्द को भी मेले ने करीब से महसूस किया।

स्वतंत्रता संग्राम का गवाह

अत्याचार और बगावत के सुरों को भी इस नौचंदी ने खूब सुना। यहीं नहीं 1857 का संग्राम देखने का गौरव भी नौचंदी से अछूता नहीं रहा। आजादी की मूरत बनी नौचंदी ने शहर के कई उतार चढ़ाव देखे, लेकिन मेले की रौनक कभी कम न हुई। देश आजाद हुआ तो बंटवारे का वक्त आया। शहर में क्या समूचे देश में सांप्रदायिक माहौल बिगड़ा। किंतु चाहे शासन मुग़लों का रहा हो या अंग्रेज़ी हुकूमत या फिर स्वतंत्रता संग्राम या सांप्रदायिक दंगे, आज तक ऐसा कभी नहीं हुआ कि शहर में नौचंदी के मेले का आयोजन न हुआ हो।[1]

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. नौचंदी मेले का इतिहास 350 साल पुराना (हिंदी) inextlive.jagran.com। अभिगमन तिथि: 11 मार्च, 2018।
  2. मेरठ की शान है नौचन्दी मेला (हिन्दी) मुसाफिर हूँ यारों। अभिगमन तिथि: 30 जनवरी, 2015।

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=नौचन्दी_मेला&oldid=620432" से लिया गया