नंगा पर्वत  

नंगा पर्वत
Nanga Parvat

नंगा पर्वत का दूसरा नाम दियामीर भी है। नंगा पर्वत, पश्चिमी हिमालय स्थित दुनिया के उच्चतम पर्वतों (8,126 मीटर ) में से एक है। इस पर्वत की तीखी दक्षिणी दीवार नीचे की घाती से लगभग 4,600 मीटर की ऊँचाई तक उठती है और इसका उत्तरी हिस्सा लगभग 7,000 मीटर नीचे जाकर सिंधु नदी से मिलता है।

प्रथम पर्वतारोही

सबसे पहले 1895 में अंग्रेज़ आल्पीय पर्वतारोही अल्बर्ट एफ़ मम्मेरी ने हिमनद और हिम से ढके इस पहाड़ पर चढ़ने का प्रयास किया था, लेकिन इस अभियान में उनकी मृत्यु हो गई। कम से कम 30 अन्य पर्वतारोही (अधिकांश जर्मन नेतृत्व में ) नंगा पर्वत पर ख़राब मौसम और अक्सर होने वाले हिमस्खलनों के कारण मारे गए।

सफल पर्वतारोही

1953 में ऑस्र्टिया के पर्वतारोही हर्मन बूल ने शिखर पर पहुंचने से सफलता प्राप्त की, इस पहाड़ का कश्मीरी नाम नंगा पर्वत संस्कृत शब्द नग्न पर्वत से निकला है। दियामीर इस शिखर का स्थानीय नाम है, 'पर्वतों का राजा'।


संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=नंगा_पर्वत&oldid=227435" से लिया गया