दुब्दी मठ  

दुब्दी मठ
दुब्दी मठ, सिक्किम
विवरण 'दुब्दी मठ' एक प्रसिद्ध बौद्ध धार्मिक स्थल है। यह सिक्किम के शहर युकसोम का पर्यटन भी है।
राज्य सिक्किम
शहर युकसोम
स्थापना 1701 ई.
संस्थापक ल्‍हाटसुन नमखा जिग्मे
संबंधित लेख सिक्किम, बौद्ध मठ, युकसोम, ताशीदिंग मठ
अन्य जानकारी दुब्दी मठ 7,000 फीट की उंचाई पर स्थित है और इसका आंतरिक हिस्सा बहुत ही सुंदर और कलात्मक है। मठ के अंदर तीन लामाओं की मूर्तियां भी स्थित हैं।


दुब्दी मठ अथवा 'डुबडी मठ' सिक्किम के प्रसिद्ध धार्मिक नगर युकसोम में स्थित बौद्ध मठ है। यह सिक्किम में पहला स्थापित और सबसे पुराना मठ है। इस मठ की स्थापना 1701 ई. में हुई थी।

  • यह 'न्यिन्गमा संप्रदाय' का तिब्बती मठ है और चोग्यालों द्वारा स्थापित तथा बौद्ध धार्मिक तीर्थ स्‍थलों की शृंखला का एक हिस्सा है।
  • दुब्दी मठ एक पहाड़ी के ऊपर स्थित है और युकसोम से आधे घंटे पैदल चलकर यहां पहुँचा जा सकता है।
  • इस मठ को "सन्न्यासियों का मठ" भी कहा जाता था। इसके संस्थापक 'ल्‍हाटसुन नमखा जिग्मे' थे।
  • सिक्किम में अपनी स्थापना के समय के दौरान से यह चार अन्य निर्मित मठों के बीच जीवित मठ है।
  • दुब्दी मठ 7,000 फीट की उंचाई पर स्थित है और इसका आंतरिक हिस्सा बहुत ही सुंदर और कलात्मक है।
  • मठ की दीवारें देवताओं और संतों के सुंदर चित्रों के साथ चित्रित की गयी हैं और एक जगह पर पुस्तकों, ग्रंथों और पांडुलिपियों का एक सुंदर संग्रह है।
  • इसके अतिरिक्त मठ के अंदर तीन लामाओं की मूर्तियां भी स्थित हैं, जो दुब्दी की स्थापना के लिए जिम्मेदार थे। कुल मिलाकर, यह घूमने के लिए एक बहुत ही दिलचस्प जगह बनाता है।[1]

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. दुब्दी मठ, युकसोम (हिन्दी) नेटिव प्लेनेट। अभिगमन तिथि: 01 दिसम्बर, 2014।

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=दुब्दी_मठ&oldid=527124" से लिया गया