दीप्ति शर्मा  

दीप्ति शर्मा
दीप्ति शर्मा
व्यक्तिगत परिचय
पूरा नाम दीप्ति भगवान शर्मा
जन्म 24 अगस्त, 1997
जन्म भूमि सहारनपुर, उत्तर प्रदेश
अभिभावक पिता- भगवान शर्मा, माता- सुशीला
खेल परिचय
बल्लेबाज़ी शैली बाएँ हाथ की बल्लेबाज़
गेंदबाज़ी शैली दाहिने हाथ की ऑफ़ ब्रेक गेंदबाज़
टीम भारत
भूमिका हरफनमौला (ऑल राउंडर)
पहला वनडे 28 नवंबर, 2014 (बनाम दक्षिण अफ़्रीका)
कैरियर आँकड़े
प्रारूप टेस्ट क्रिकेट एकदिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय टी-20 अन्तर्राष्ट्रीय
मुक़ाबले 20 5
बनाये गये रन 737 37
बल्लेबाज़ी औसत 52.64 18.50
100/50 1/5 0/0
सर्वोच्च स्कोर 188 24
फेंकी गई गेंदें 995 114
विकेट 27 5
गेंदबाज़ी औसत 18.96 19.20
पारी में 5 विकेट 1 0
मुक़ाबले में 10 विकेट 0 0
सर्वोच्च गेंदबाज़ी 6/20 2/23
कैच/स्टम्पिंग 5/- 1/-
अद्यतन

दीप्ति भगवान शर्मा (अंग्रेज़ी: Deepti Bhagwan Sharma, जन्म- 24 अगस्त, 1997, सहारनपुर, उत्तर प्रदेश) भारत की महिला क्रिकेटर हैं। 28 नवंबर, 2014 को दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ ओडीआई में उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपना पहला प्रदर्शन किया था। वह बाएं हाथ के बल्लेबाज़ हैं और राइट-आर्म की मध्यम गति की गेंदबाज़ी करती हैं। दीप्ति शर्मा ने 15 मई, 2017 को आयरलैंड के विरुद्ध एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी साथी क्रिकेटर पूनम राउत के साथ 320 रनों की ओपनिंग साझेदारी कर विश्व कीर्तिमान बनाया है। इसके साथ ही उन्होंने 188 रन बनाकर 12 साल पुराना भारतीय रिकॉर्ड भी तोड़ दिया।

परिचय

दीप्ति शर्मा का जन्म 24 अगस्त, 1997 को सहारनपुर, उत्तर प्रदेश में हुआ था। बाद में उनका परिवार आगरा आकर बस गया। उनके पिता भगवान शर्मा भारतीय रेलवे के सेवानिवृत्त क्लर्क हैं, जबकि मां सुशीला एक प्राथमिक विद्यालय में प्रधानाध्यापक हैं। माता-पिता दीप्ति शर्मा को देवी माँ का वरदान मानते हैं। उनका कहना है कि- "बेटी ने बेटे से ज्यादा नाम कमाया है।" अपने कॅरियर के शुरुआत में दीप्ति शर्मा को उनके पड़ोसी और रिश्तेदार ताने मारते थे। वे उनके क्रिकेट कैंप के लिए अकेले जाने पर ऐतराज करते थे।

एक गेंद ने बदल दिया जीवन

दीप्ति के भाई बाला राज्य स्तरीय क्रिकेटर रहे हैं। वे प्रतिदिन आगरा के एकलव्य स्टेडियम में अभ्यास करने जाते थे। 2007 में 9 साल की दीप्ति ने भाई के साथ स्टेडियम जाने की जिद पकड़ ली। पिता के कहने पर भाई बाला अपने साथ स्टेडियम ले गए। संयोग से उसी दिन सीनियर महिला क्रिकेटर हेमलता बच्चों को प्रशिक्षण देने आई हुई थीं। दीप्ति शर्मा भी उस अभ्यास सत्र में शामिल हो गईं। अभ्यास के दौरान उनका एक थ्रो सीधे स्टंप्स पर जाकर लगा। इसे देखकर हेमलता काफ़ी प्रभावित हुईं। उन्होंने दोबारा गेंद फेंकने के लिए कहा। दूसरी बार भी थ्रो निशाने पर लगा। उन्होंने दीप्ति से पूछा- "कब से क्रिकेट खेल रही हो।" दीप्ति ने कहा- "मैं तो सिर्फ भाई का खेल देखने आई थी।" हेमलता ने भाई से कहा- "इसे क्रिकेट खेलना चाहिए, ये ज़रूर एक दिन भारत की राष्ट्रीय टीम में आएगी।" आज वह भविष्यवाणी सत्य साबित हो चुकी है।[1]

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 19 साल की इस क्रिकेटर ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड (हिंदी) bhaskar.com। अभिगमन तिथि: 20 मई, 2017।

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=दीप्ति_शर्मा&oldid=616821" से लिया गया