तिरुपदी  

तिरुपदी मद्रास (वर्तमान चेन्नई) में तिरुपला पहाड़ी के ऊपर तथा उसके पादमूल में बसी हुई एक बस्ती है। ऊपर बालाजी का प्रसिद्ध मंदिर है। तिरुपदी के अनेक मंदिरों में गोविंदराज का मंदिर विशेष रूप से प्रमुख है।

  • रामानुज सम्प्रदाय के ग्रंथ 'प्रपन्नामृत' के 51वें अध्याय में उल्लेख है कि रामानुजस्वामी ने वेंकटाचल के पास गोविंदराज की मूर्ति को स्थापित किया था।
  • तिरुमला पहाड़ी की सातवीं चोटी ही वेंकटाचल कहलाती है।
  • गोविंदराज शेषशायी विष्णु की मूर्ति का नाम है।
  • इसी मंदिर के पास श्री भट्टनाथ दिव्यसूर की कन्या गोदादेवी का मंदिर है, जिसकी स्थापना भी श्री रामानुज ने की थी।
  • तिरुपदी स्टेशन से एक मील दक्षिण की ओर सुवर्णमुखी नदी बहती है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=तिरुपदी&oldid=274800" से लिया गया