जालंधर  

देवी तलाब मन्दिर,जालंधर

जालंधर शहर मध्य पंजाब राज्य, पश्चिमोत्तर भारत में स्थित है। जालंधर सातवीं शताब्दी में एक राजपूत राज्य की राजधानी था। वर्तमान में यह पंजाब का तीसरा सबसे बड़ा शहर है। यह एक महत्त्वपूर्ण जंक्शन है। जालंधर पंजाब का सबसे पुराना शहर है। जालंधर वह जगह है जिसने देश को कई वीर योद्धा दिए है।

इतिहास

जालंधर ज़िले का नाम राक्षस के नाम पर रखा गया है, जिसका उल्लेख पुराण और महाभारत में भी हुआ है। जबकि कुछ का मानना है कि यह जगह राम के पुत्र लव की राजधानी थी। वही कुछ मानते हैं कि जालंधर का अर्थ पानी के अंदर होता है तथा यहाँ पर सतलुज और बीस नदियों का संगम होता है इसलिए इस जगह का नाम जालंधर रखा गया। जालंधर को त्रिरत्ता के नाम से भी जाना जाता है। महमूद ग़ज़नवी ने जालंधर को लूटा था तथा मुग़ल काल में जालंधर व्यास एवं सतलुज के मध्य बसा प्रमुख प्रशासनिक नगर था। जालंधर से 19 किलोमीटर दूर स्थित कपूरथला भी एक प्रसिद्ध ऐतिहासिक नगर है।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=जालंधर&oldid=462572" से लिया गया