चूड़ी  

चूड़ियों का दृश्य, कोलकाता

भारत की महिलाओं के लिए चूड़ियाँ पहनना एक परंपरा है। उत्तर भारत में आमतौर पर महिलाएँ विभिन्न आकार और रंगों की चूड़ियाँ पहनती हैं। सुहाग की प्रतीक चूड़ी के लिए सुहाग नगरी फिरोजाबाद प्रसिद्ध है।

महत्त्व

सुहाग के प्रतीकों का महत्त्व प्राचीन सभ्यता से ही देखने को मिलता है। इतिहास में मोहनजोदड़ो तथा हड़प्पा काल की स्त्रियों की कलाई चूड़ियों से सजी होती थी। उस समय की स्त्रियाँ बाजु तक चूड़ियाँ पहनती थी। चूड़ी की खनक जितनी प्यारी होती है उतना ही इसका महत्त्व भी है। सुहागनें चूड़ी को सुहाग के प्रतीक के रूप में पहनती हैं तो कुंवारी लड़कियाँ चूड़ी फैशन के तौर पर पहनती हैं। चूड़ी की खनक और महत्त्व वक़्त के बदलने के साथ कम नहीं हो सकता है। वर्तमान दौर में लड़कियाँ हर वक़्त चूड़ी नहीं पहनती हैं। चूड़ी सिर्फ़ पहनने का आभूषण नहीं है बल्कि यह हमारी संस्कृति और सभ्यता है। दुल्हन की चूडिय़ों का विवाह के मौके पर विशेष ख्याल रखा जाता है। आजकल रेडियम प्लेटेड चूड़ियाँ, रेडियम पॉलिश्ड सोने की चूड़ियाँ, हीरे जड़ित सोने व ब्राइट गोल्ड की चूड़ियाँ दुल्हन की ख़ास पसंद बन गई हैं।

  • मारवाड़ी दुल्हनें सोने व आइवरी की चूड़ियाँ पहनती हैं।
  • राजपूत दुल्हन की चूड़ी में साधारण आइवरी की चूड़ियाँ होती हैं जो आकार के हिसाब से कलाई से लेकर कंधे तक पहनी जाती हैं।
  • उत्तर प्रदेश में दुल्हनें लाह की लालहरी चूड़ियाँ पहनती हैं। इनके आसपास काँच (शीशा) की चूड़ियाँ पहनी जाती हैं।
  • राजस्थानगुजरात की अविवाहित आदिवासी महिलाएँ हड्डियों से बनी चूड़ियाँ पहनती हैं, जो कलाई से शुरू होते हुए कोहनी तक जाती हैं लेकिन वहाँ की शादीशुदा महिलाएँ कोहनी से ऊपर तक ये चूड़ियाँ पहनती हैं। लाह की लाल रंग की चूड़ी, सफ़ेद सीप व मोटी लोहे की चूड़ी जिसे सोने में भी पहना जाता है।
  • परंपरागत रूप में केरल में दुल्हन सोने की चूड़ियाँ कम संख्या में पहनती हैं।
  • कई मुस्लिम परिवारों में चूड़ियाँ नहीं पहनी जाती हैं, फिर भी हल्दी की रस्म के दौरान कुछ राज्यों की महिलाएँ लाल लाह की चूड़ियाँ पहनती हैं।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. चूड़ियाँ (हिन्दी) दैनिक ट्रिब्यून। अभिगमन तिथि: 25 जनवरी, 2011
  2. खनकती चूडिय़ों का सौन्दर्य (हिन्दी) प्रेसवार्ता। अभिगमन तिथि: 25 जनवरी, 2011
  3. भारतीय विवाह और चूड़ियाँ (हिन्दी) (एच टी एम एल) साक्षी की कलम। अभिगमन तिथि: 25 जनवरी, 2011
और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=चूड़ी&oldid=613130" से लिया गया