चीकू  

चीकू
Chiku

चीकू का पेड़ मूल रूप से दक्षिण अफ्रीका के उष्ण कटिबंध के वेस्टंइडीज द्वीप समूह का है। वहाँ यह 'चीकोज पेटी' के नाम से प्रसिद्ध है। परन्तु चीकू वर्तमान समय में भारत और अन्य देशों में भी पाये जाते हैं।

प्रकार

चीकू मुख्य रूप से तीन प्रकार के होते हैं।

  1. लम्बा गोल।
  2. साधारण लम्बा गोल।
  3. गोल।

स्वाद

चीकू बहुत मीठे और स्वादिष्ट लगते हैं। गोल चीकू की अपेक्षा लम्बे चीकू श्रेष्ठ माने जाते हैं। चीकू का नाश्ते और फलाहार में उपयोग होता है। कुछ लोग चीकू का हलवा बनाकर खाते हैं। इसका हलुवा बहुत ही स्वादिष्ट होता है। चीकू खाने से शरीर में विशेष प्रकार की ताजगी और फुर्ती आती है। इसमें शर्करा की मात्रा अधिक होती है। यह ख़ून में घुलकर ताजगी देती है। चीकू खाने से आँतों की शक्ति बढ़ती है और आँते अधिक मज़बूत होती हैं।

गुण

चीकू शीतल, पित्तनाशक, पौष्टिक, मीठे और रुचिकारक हैं। इसमें शर्करा का अंश ज़्यादा होता है। यह पचने में भारी होता है। भोजन के बाद यदि चीकू का सेवन किया जाए तो यह निश्चित रूप से लाभ प्रदान करता है।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. चीकू (हिन्दी) जनकल्याण। अभिगमन तिथि: 22 अगस्त, 2010
और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=चीकू&oldid=545769" से लिया गया