चिदंबरम मंदिर  

चिदंबरम मंदिर
चिदंबरम मंदिर
वर्णन यह मंदिर नटराज के रूप में भगवान शिव को समर्पित है। मंदिर में कई काँस्य प्रतिमाएँ हैं, जो सम्भवतः 10वीं-12वीं सदी के चोल काल की हैं।
स्थान चिदंबरम, तमिलनाडु
देवी-देवता शिव और पार्वती
वास्तुकला द्रविड़ वास्तुकला शैली
भौगोलिक स्थिति 11°23′58″ उत्तर, 79°41′36″ पूर्व
मार्ग स्थिति पुदुचेरी से दक्षिण की ओर 78 किलोमीटर की दूरी पर और चेन्नई शहर से लगभग 245 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।
अन्य जानकारी हिन्दू साहित्य के अनुसार चिदंबरम मंदिर उन पांच पवित्र शिव मंदिरों में से एक है, जो प्राकृतिक के पांच महत्वपूर्ण तत्वों का प्रतिनिधित्व करता है।

चिदंबरम मंदिर या नटराज मंदिर तमिलनाडु राज्य के चिदंबरम शहर में स्थित है। यह मंदिर नटराज के रूप में भगवान शिव को समर्पित है। मंदिर में कई काँस्य प्रतिमाएँ हैं, जो सम्भवतः 10वीं-12वीं सदी के चोल काल की हैं। चिदंबरम के इस मंदिर में प्रवेश के लिए भव्य गोपुरम बने हैं, जो नौ मंजिले हैं। इसका सभागृह 1,000 से अधिक स्तम्भों पर टिका है। इन गोपुरों पर मूर्तियों तथा अनेक प्रकार की चित्रकारी का अंकन है। इनके नीचे 40 फुट ऊँचे, 5 फुट मोटे ताँबे की पत्ती से जुड़े हुए पत्थर के चौखटे हैं। मंदिर के शिखर के कलश सोने के हैं।

शिव का अलौकिक रूप

चिदंबरम मंदिर दक्षिण भारत के पुराने मंदिरों में से एक है, जो एक हिंदू मंदिर है। यह तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई से 245 किलोमीट दूर चेन्नई-तंजावुर मार्ग पर स्थित है। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि भगवान शिव ने आनंद नृत्य की प्रस्तुति यहीं की थी, इसलिए इस जगह को 'आनंद तांडव' के नाम से भी जाना जाता है। यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। मंदिर के महत्व का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यह भारत के पांच पवित्र शिव मंदिरों में से एक है। मंदिर शहर के मध्य में स्थित है। इसकी विशालता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यह 40 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है। यह मंदिर भगवान शिव के एक अन्य रूप नटराज और गोविंदराज पेरुमल को समर्पित है, जो अति प्राचीन और ऐतिहासिक मंदिर है। इस मंदिर के बारे में लोग यही कहते हैं कि देश में बहुत कम मंदिर ऐसे हैं, जहां शिववैष्णव दोनों देवता एक ही स्थान पर प्रतिष्ठित हैं। मंदिर में कुल नौ द्वार और चार पगोडे या गोपुरम हैं।[1]

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 1.2 चदंबरम मंदिर : शिव का मंगलमय और अलौकिक रूप (हिंदी) चौथी दुनिया। अभिगमन तिथि: 22 सितम्बर, 2014।
  2. ‘तांडव नृत्य’ करती हैं चिदंबरम मंदिर की मूर्तियां (हिंदी) अमर उजाला। अभिगमन तिथि: 22 सितम्बर, 2014।
  3. यहां मानवरूपी मूर्ति के रूप में प्रतिष्ठित हैं भगवान शिव (हिंदी) अटल संदेश। अभिगमन तिथि: 22 सितम्बर, 2014।

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=चिदंबरम_मंदिर&oldid=571727" से लिया गया