गोल्ड कोस्ट  

गोल्ड कोस्ट अफ़्रीका का पश्चिमी समुद्रतट है, जिसे अब घाना कहतें हैं। पहले यह ब्रिटेन के पश्चिमी अफ़्रीकी औपनिवेशिक तंत्र के अधीन था। 14वीं सदी में सर्वप्रथम यहाँ पुर्तग़ालियों का आगमन हुआ। 17वीं सदी में अंग्रेज़ तथा डच व्यापारी इस क्षेत्र के द्वारा दासों का व्यापार करते थे। धीरे-धीरे इस क्षेत्र पर ब्रिटेन का आधिपत्य हो गया। 6 मार्च, 1957 को गोल्ड कोस्ट तथा टोगोलैंड के ट्रस्टीशिप क्षेत्र को डोमिनियन पद[1]प्राप्त हुआ। उसी समय से इसका नामकरण 'घाना' हुआ। यह नाम उस प्राचीन स्वतंत्र एवं शक्तिशाली राजतंत्र का द्योतक है, जो चौथी सदी से लेकर 13वीं सदी तक मध्य नाइजर क्षेत्र में स्थित था। 1 जुलाई, 1960 ई. को यह ब्रिटिश राष्ट्रसंघ के अंतर्गत एक स्वतंत्र गणराज्य घोषित हुआ।[2]

क्षेत्रों का विभाजन

भौगोलिक दृष्टि से गोल्ड कोस्ट को पूर्वी, पश्चिमी, अशांति[3] उत्तरी तथा टोगोलैंड, इन पाँच क्षेत्रों में विभाजित कर सकते हैं। प्रशासनिक दृष्टि से इसे आठ भागों-पूर्वी, पश्चिमी, अशांति, उत्तरी, वोल्टा, मध्य, ऊपरी[4] तथा ब्रोंग अहाफो में बाँटा गया है।

भौगोलिक दशाएँ

घाना का अधिकांश भाग वोल्टा नदी के बेसिन में पड़ता है। दक्षिण-पश्चिमी समुद्रतटीय क्षेत्रों में उष्णकटिबंधीय वन पाए जाते हैं; शेष समुद्रतटीय निचले मैदानों में सवाना घासें उगती हैं। देश के अंतर्भाग में धरातल उठता जाता है। मध्य का पर्वतीय भाग अधिक वर्षा होने के कारण वनाच्छादित है। पहाड़ियों के उत्तर स्थित क्षेत्र में सवाना घासें प्रमुख प्राकृतिक वनस्पति हैं।[2]

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. Dominion status
  2. 2.0 2.1 2.2 गोल्ड कोस्ट (हिन्दी) भारतखोज। अभिगमन तिथि: 29 मई, 2015।
  3. Ashanti
  4. Upper
  5. Copra
  6. Cassava
  7. Palm kernel
  8. Accra

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=गोल्ड_कोस्ट&oldid=609747" से लिया गया