गढ़ा  

गढ़ा जबलपुर ज़िला, मध्य प्रदेश में स्थित एक ऐतिहासिक नगर का नाम है। यह नगर जबलपुर से 4 मील (लगभग 6.4 कि.मी.) की दूरी पर पश्चिम की ओर स्थित है। गढ़ा नगर को गौंड़ राजाओं द्वारा बसाया गया था।[1]

  • गौंड़ नरेश संग्राम सिंह (16वीं शती) 'मदनमहल' नामक स्थान पर रहते थे, जो गढ़ा से एक मील पर है।
  • यहाँ से प्राप्त सिक्कों से सूचित होता है कि उस काल में यहाँ एक टकसाल भी थी।
  • 'मदनमहल' के निकट शारदा देवी का मंदिर है।
  • गढ़ा में एक प्राचीन तांत्रिक मंदिर भी है, जिसका निर्माण किवदंती के अनुसार केवल पुष्य नक्षत्र में ही किया जा सकता था।
  • आज भी गढ़ा में तांत्रिक मत का पर्याप्त प्रभाव है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. ऐतिहासिक स्थानावली |लेखक: विजयेन्द्र कुमार माथुर |प्रकाशक: राजस्थान हिन्दी ग्रंथ अकादमी, जयपुर |पृष्ठ संख्या: 277 |

संबंधित लेख

"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=गढ़ा&oldid=494170" से लिया गया