खोडाला  

खोडाला महाराष्ट्र राज्य के ठाणे ज़िले में स्थित एक छोटा-सा गाँव है। यह समुद्र तल से लगभग 1800 फीट की ऊँचाई पर स्थित है। अपने शांत माहौल के लिए प्रसिद्ध खोडाला, वैतरना झील, इगतपुरी, कसार घाट और त्रिंगलवाड़ी क़िले के कारण एक प्रमुख पर्यटन केंद्र है।

पर्यटन स्थल

खोडाला एक पहाड़ी पर स्थित होने के कारण और हरे-भरे घने जंगलों से घिरा होने के कारण ट्रैकिंग और पिकनिक के लिए बहुत अच्छी जगह है। यह परंपराओं से बंधी एक ऐसी स्थिर और रूखी जगह है, जो आज भी दुनिया के लिए अनजान है। मुंबई और पुणे जैसे बड़े शहरों के निकट होने पर भी यह गाँव उतना प्रसिद्ध नहीं है, जितना कि उसे होना चाहिए। यहाँ बड़ी संख्या में स्थानीय आदिवासी संस्कृति के लोग बसे हुए हैं, जो आज भी पशु-बलि जैसी रीतियों को मानते हैं। वे उस देहाती भारत की झलक प्रस्तुत करते हैं, जिसे आधुनिक तकनीक छू भी नहीं सकी और जिस पर आज हम पूरी तरह से निर्भर हैं। आदिवासी गीत और संगीत उनकी ज़िंदगी का हिस्सा है और उनका पहनावा यह दर्शाता है कि वे आज भी अपनी संस्कृति से प्यार करते हैं।[1]

प्रमुख आकर्षण

महाराष्ट्र का यह गाँव ट्रैकिंग का गढ़ है, जहाँ ट्रैकिंग और माउंटेन बाइकिंग के लिए अनेक अवसर मिलते हैं। यहाँ स्थित 'अमला वन्यजीव अभयारण्य' किसी भी वन्यजीव प्रेमी को आकर्षित करने में सक्षम है, क्योंकि यहाँ रेंगने वाले जंतुओं की अनेक प्रजातियाँ देखने को मिलती है। अभयारण्य की वनस्पति और यहाँ आने वाले प्रवासी पक्षी भी प्रमुख हैं।

मौसम

खोडाला का मौसम वर्ष भर सुहावना बना रहता है, लेकिन फिर भी यहाँ आने का सबसे अच्छा समय सर्दियाँ और मानसून के बाद का होता है। आदिवासी त्योहारों के समय यहाँ आने का अलग ही मज़ा है, क्योंकि इस समय पर्यटकों को आदिवासी नृत्य देखने को मिलता है।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 खोडाला (2013)। । अभिगमन तिथि: 25 जनवरी, 2013।

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=खोडाला&oldid=432934" से लिया गया