खोडलिन नृत्य  

खोडलिन नृत्य बिहार में प्रचलित लोकप्रिय लोक नृत्य है। यह नृत्य पेशेवर नर्तकियों द्वारा किया जाता है। यह लोक नृत्य सामन्तवादी व्यवस्था की देन है।

  • इस नृत्य को व्यावसायिक महिलाएँ ही विवाह तथा अन्य मांगलिक कार्यों के शुभावसरों पर करती हैं।
  • नर्तक महिलाएँ आमंत्रित अतिथियों के समक्ष मात्र उनके मनोरंजन हेतु खोडलिन नृत्य करती हैं।
  • पेशेवर महिला नृत्यकों की बुद्धिमता यह होती है कि वे नृत्य करते समय अतिथि विशेष को अपनी भाव-भंगिमाओं से रिझाकर उनसे भरपूर पुरस्कार हथिया लें।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=खोडलिन_नृत्य&oldid=306921" से लिया गया