खाशाबा जाधव  

खाशाबा जाधव
खाशाबा जाधव
पूरा नाम खाशाबा दादासाहेब जाधव
जन्म 15 जनवरी, 1926
जन्म भूमि सतारा, महाराष्ट्र
मृत्यु 14 अगस्त, 1984
कर्म भूमि भारत
खेल-क्षेत्र कुश्ती
पुरस्कार-उपाधि 'जीवन गौरव पुरस्कार' (1983), 'मेघनाथ नागेश्वर अवार्ड' (1990-मरणोपरांत), 'शिव छत्रपति पुरस्कार' (1993-मरणोपरांत)।
प्रसिद्धि पहलवान
नागरिकता भारतीय
संबंधित लेख कुश्ती, कुश्ती का इतिहास, कुश्ती की पद्धतियाँ, ओलम्पिक खेल, गामा पहलवान, सुशील कुमार पहलवान
अन्य जानकारी पुलिस विभाग में खेल कोटा खाशाबा जाधव के ओलम्पिक में पदक जीतने के बाद से ही शुरू हुआ। आज भी खेल कोटा से जो भर्ती होती है, वह खाशाबा जाधव की ही देन है, इस बात की जानकारी आज के पुलिस वालों को शायद ही हो।
अद्यतन‎ 01:14, 5 अगस्त, 2016 (IST)

खाशाबा दादासाहेब जाधव (अंग्रेज़ी: Khashaba Dadasaheb Jadhav, जन्म- 15 जनवरी, 1926, महाराष्ट्र; मृत्यु- 14 अगस्त, 1984) भारत के प्रसिद्ध कुश्ती खिलाड़ी थे। वे पहले भारतीय खिलाड़ी थे, जिन्होंने सन 1952 में हेलसिंकी ओलम्पिक, फ़िनलैण्ड में देश के लिए कुश्ती की व्यक्तिगत स्पर्धा में सबसे पहले कांस्य पदक जीता था। वैसे तो 1952 के हेलसिंकी ओलम्पिक में भारतीय हॉकी टीम ने फिर से स्वर्ण पदक हासिल किया था, लेकिन चर्चा सोने से अधिक उस कांस्य पदक की होती है, जिसे पहलवान खाशाबा जाधव ने जीता था। खाशाबा को पॉकेट डायनमो के नाम से भी जाना जाता है। भारत को ओलम्पिक का पदक दिलाने वाला यह खिलाड़ी बाद में गुमनाम बनकर रह गया।

परिचय

खाशाबा का जन्म सतारा ज़िला, महाराष्ट्र में कराड तहसील के गोलेश्वर नामक छोटे से गाँव में मराठा परिवार में 15 जनवरी 1926 को हुआ था। उनकी माँ का नाम 'पुतलीबाई' था और उनके पिता को सभी 'दादासाहब' कहते थे। खाशाबा सभी भाई बहनों में सबसे छोटे थे। उनके घर में खेती होती थी। उनके पिता कृषक थे तथा पहलवानी भी करते थे। वे कुश्ती खेलते थे। खेत से घर आने पर वे कुश्ती कैसे खेली जाए इसका प्रशिक्षण खाशाबा को देते थे। कुश्ती का प्रारम्भिक प्रशिक्षण उन्हें घर पर ही मिला।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. यंगलवार, विजय। भारतीय ओलंपिक वीर (हिन्दी) (html)। । अभिगमन तिथि: 5 अगस्त, 2016।
  2. 1952 हेलसिंकी ओलम्पिक:भारतीय पहलवान जाधव ने देश को दिलाया पहला व्यक्तिगत पदक (हिन्दी) jagran.com। अभिगमन तिथि: 05 अगस्त, 2016।
  3. यंगलवार, विजय। भारतीय ओलंपिक वीर (हिन्दी) (html)। । अभिगमन तिथि: 5 अगस्त, 2016।
  4. भुला दिए गए भारत को पहला ओलिंपिक मेडल दिलाने वाले पहलवान दादासाहेब जाधव (हिन्दी) krantidoot.in। अभिगमन तिथि: 05 अगस्त, 2016।
  5. आखिर क्यों भुला दिया देश ने पहला ओलम्पिक मैडल दिलाने वाले पहलवान दादासाहेब जाधव को ? (हिन्दी) hindi.insistpost.com। अभिगमन तिथि: 05 अगस्त, 2016।

बाहरी कड़ियाँ

New Wrestling Stadium Named as K.D. Jadhav Wrestling Stadium

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=खाशाबा_जाधव&oldid=599654" से लिया गया