कृष्ण चन्द्र भट्टाचार्य  

कृष्ण चन्द्र भट्टाचार्य
कृष्ण चन्द्र भट्टाचार्य
पूरा नाम कृष्ण चन्द्र भट्टाचार्य
जन्म 12 मई, 1875
जन्म भूमि सिरामपुर, पश्चिम बंगाल
मृत्यु 11 दिसंबर, 1949
कर्म भूमि भारत
कर्म-क्षेत्र दर्शन
मुख्य रचनाएँ Some aspects of Negation और The Jaina theory of Anekantavada[1]
प्रसिद्धि दार्शनिक
नागरिकता भारतीय
अन्य जानकारी कृष्णचन्द्र भट्टाचार्य के दर्शन के विकास को तीन सुस्पष्ट अवधियों में विभक्त किया जा सकता है- प्रथम अवधि 1918 तक, द्वितीय अवधि 1925 से 1932 तक, और तृतीय 1934 से 1938 तक।

कृष्ण चन्द्र भट्टाचार्य (अंग्रेज़ी: Krishna Chandra Bhattacharya, जन्म: 12 मई, 1875 - मृत्यु: 11 दिसंबर, 1949) कलकत्ता विश्वविद्यालय में दार्शनिक थे, जिन्होंने हिन्दू दर्शन पर अध्ययन किया।

जीवन परिचय

कृष्णचन्द्र भट्टाचार्य का जन्म 12 मई, 1875 ई. को सिरामपुर पश्चिम बंगाल में हुआ था। वे बंगाल शिक्षा सेवा से बहाल होकर कई कॉलेजों में व्याख्याता रहे। 1930 में उन्होंने हुगली कॉलेज के स्थानापन्न प्रधानाचार्य के पद पर करते हुए अवकाश ग्रहण किया। अमलनेर के भारतीय दर्शन संस्थान के निदेशक के पद पर भी वे कुछ दिन रहे। 1935 में कलकत्ता विश्वविद्यालय के दर्शन शास्त्र के पंचम जॉर्ज प्रोफ़ेसर का पद उनको दिया गया।

टीका टिप्पणी और संदर्भ

भट्टाचार्य, प्रो. कालिदास विश्व के प्रमुख दार्शनिक (हिन्दी)। भारतडिस्कवरी पुस्तकालय: वैज्ञानिक तथा तकनीकी शब्दावली आयोग, नई दिल्ली, 359।

  1. जो सम्भवत: उनके चिन्तन की प्रथम अवधि में लिखा गया था और द्वितीय अवधि के प्रारम्भ में प्रकाशित हुआ
  2. जो सम्भवत: उनके चिन्तन की प्रथम अवधि में लिखा गया था और द्वितीय अवधि के प्रारम्भ में प्रकाशित हुआ
  3. जिसके मिथ्यात्व का पता लग गया है
  4. जो शरीर के प्रत्यक्ष ही समानार्थक है
  5. कम से कम अन्तनिरीक्षणगम्य
  6. उत्तम, मध्यम और अन्य पुरुष-क्रमश: मैं, तुम और वह
  7. सर्वनाम 'यह' के द्वारा संकेतित
  8. उत्तम पुरुष 'मैं' जिसका स्वयं को साक्षात् ज्ञान होता है
  9. और जिसको भट्टाचार्य ने सत्यता कहा है
  10. अज्ञेय के रूप में कदापि नहीं

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=कृष्ण_चन्द्र_भट्टाचार्य&oldid=627978" से लिया गया