कृष्णप्पा गौतम  

कृष्णप्पा गौतम

कृष्णप्पा गौतम (अंग्रेज़ी: Krishnappa Gautam, जन्म- 20 अक्टूबर, 1988, बंगलोर, कर्नाटक) भारतीय प्रथम श्रेणी के क्रिकेट खिलाड़ी हैं। उनका पेशेवर कॅरियर तब शुरू हुआ, जब उन्हें बंगलोर में अंडर-15 जोनल टूर्नामेंट के लिए चुना गया, जहां वह दूसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बनकर उभरे। उन्होंने बंगाल के खिलाफ नवंबर, 2012 में कर्नाटक के लिए अपना पहला रणजी ट्रॉफी मैच खेला और दूसरी पारी में दो विकेट लिए। रणजी ट्रॉफी 2016-2017 सीज़न में कृष्णप्पा गौतम ने दिल्ली और असम के खिलाफ लगातार पांच-पांच विकेट लिए थे, जिससे टीम को जीतने में मदद मिली।

परिचय

कृष्णप्पा गौतम का जन्म 20 अक्टूबर, 1988 को बंगलोर, कर्नाटक में हुआ। मध्यम वर्गीय परिवार में जन्में गौतम बचपन से क्रिकेट के प्रति अरूचि रखते थे। अक्टूबर, 2008 में भारत में ऑस्ट्रेलिया की टीम खेलने आयी। इनको नेट बॉउलिंग करने के लिए बुलाया गया। उन दिनों वे हरभजन सिंह की तरह गेंदबाजी करते थे। ऑस्ट्रेलियन कोच इनसे काफी प्रभावित हुए, लेकिन फिर भी ये कभी सुर्खियों में नहीं आये। कृष्णप्पा बचपन में फ़ुटबॉल को पसन्द करते थे, उन्हें स्कूल के कोच जे. रंगनाथ ने क्रिकेट खेलने के लिए प्रेरित किया।[1]

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. कृष्णप्पा गौतम का जीवन परिचय (हिंदी) deepawali.co.in। अभिगमन तिथि: 23 जून, 2018।

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=कृष्णप्पा_गौतम&oldid=631498" से लिया गया