कुशल पाल सिंह  

कुशल पाल सिंह विषय सूची
कुशल पाल सिंह    कॅरियर    पुरस्कार एवं सम्मान


कुशल पाल सिंह
के.पी. सिंह
पूरा नाम कुशल पाल सिंह
जन्म 15 अगस्त, 1931
जन्म भूमि बुलंदशहर
कर्म भूमि भारत
कर्म-क्षेत्र उद्योगपति
शिक्षा एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग
पुरस्कार-उपाधि पद्म भूषण
प्रसिद्धि ‘डीएलएफ इंडिया’ के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी
नागरिकता भारतीय
अन्य जानकारी भारत का एकमात्र ‘नाईट गोल्फ क्लब’ और एशिया का सर्वश्रेष्ठ ‘गोल्फ क्लब’ डीएलएफ की खास उपलब्धि है
अद्यतन‎

कुशल पाल सिंह (अंग्रेजी: Kushal Pal Singh, जन्म: 15 अगस्त, 1931, बुलंदशहर) भारत वर्तमान में ‘डीएलएफ इंडिया’ के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। भारत के सबसे अमीर रियल स्टेट डेवल पर कुशल पाल सिंह को लोग के.पी. सिंह के नाम से जानते हैं, इनको भारत के रियल एस्टेट के क्षेत्र में सबसे बड़े विकास पुरुष के रूप में जाना जाता है। इनकी कंपनी ‘डीएलएफ लिमिटेड’ भारतीय रियल एस्टेट उद्योग के क्षेत्र में आज भी अपना मजबूत पकड़ बनाए हुए है। गुड़गांव, आधुनिक टाउनशिप को वर्तमान रूप में विकसित करने का श्रेय के.पी. सिंह की कंपनी ‘डीएलएफ लिमिटेड’ को ही जाता है। इनका रियल स्टेट व्यवसाय सम्पूर्ण भारत के लगभग 20 राज्यों के 25 शहरों में फैला हुआ है। के.पी. सिंह को विश्व भर में सामान्य रास्ते से हटकर कठिन रास्ते पर चलने वाले दूरदृष्टया के रूप में भी पहचान मिली है, जिन्होंने भारत के शहरी क्षेत्रों में भूमि को विकसित कर विश्व-स्तरीय मानक के अनुसार हाउसिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर, गोल्फ क्लब और मॉल संस्कृति को विकसित किया। इन्होंने अपने कुशल व्यवसाय कौशल के बदौलत विश्व के विभिन्न देशों से बहुत बड़ी मात्रा में पूंजी का भारत में निवेश कराया और बहुत से लोगों को इस क्षेत्र में रोजगार का अवसर भी उपलब्ध कराया।[1]

जीवन परिचय

के.पी. सिंह का जन्म उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में 15 अगस्त, 1931 को एक प्रतिष्ठित जाट जमींदार परिवार में हुआ था। मेरठ कॉलेज (उत्तर प्रदेश) से ये विज्ञान में स्नातक की शिक्षा लेने के बाद एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग का अध्ययन करने के लिए ब्रिटेन चले गए। ब्रिटेन में इंजीनियरिंग की शिक्षा प्राप्त करने के बाद इन्हें ब्रिटिश अधिकारी सेवा चयन बोर्ड ने भारतीय सेना में सेवा के लिए चयनित किया। परिणाम स्वरूप ये देहरादून की भारतीय सैन्य अकादमी में शामिल हो गए और बाद में भारतीय सेना के कैवलरी रेजिमेंट में कमीशन प्राप्त किया। कुछ दिन बाद इन्होंने सेना की नौकरी छोड़ दी।[1]

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. 1.0 1.1 1.2 कुशल पाल सिंह (हिन्दी) itshindi.com। अभिगमन तिथि: 26 अक्टूबर, 2017।

संबंधित लेख

और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=कुशल_पाल_सिंह&oldid=610176" से लिया गया