काग़ज़  

लेखन सामग्री विषय सूची
यूरोप में काग़ज़-निर्माण (1662 ई. में प्रकाशित एक वुडकट से)

काग़ज़ 'प्राचीन भारत की लेखन सामग्रियों' में से एक है, जो बहुत ही महत्त्वपूर्ण स्थान रखता है। काग़ज़ की उपलब्धि ने ज्ञान-विज्ञान और संस्कृति के विकास में बहुत योगदान दिया है। प्राचीन जगत् की किसी भी अन्य उपलब्धि को काग़ज़ के आविष्कार और उससे जनित मुद्रण-कला के समकक्ष नहीं रखा जा सकता। इन दोनों ही आविष्कारों ने आधुनिक मानव के बौद्धिक जीवन पर दीर्घकालीन प्रभाव डाला है। कल्पना कीजिए कि अचानक ही काग़ज़ का उत्पादन रुक जाता है और मुद्रण कार्य बन्द पड़ जाता है, तब हमारे आधुनिक समाज का क्या हाल होगा? हालाँकि संचार के अन्य साधन उपलब्ध हैं, मगर वे काग़ज़ और मुद्रण का स्थान नहीं ले सकते हैं।

काग़ज़ का आविष्कार

चीन में काग़ज़ ईसा की आरम्भिक सदियों में उपलब्ध हुआ। काग़ज़ के आविष्कार का श्रेय वहाँ के त्साइ-लुन नामक व्यक्ति को दिया जाता है। वह प्राचीन चीन के पूर्वी हान वंश (20-220 ई.) के राजदरबार में वस्तुओं के उत्पादन का अधिकारी था। पता चलता है कि त्साइ-लुन ने पेड़ों की छाल, सन के चिथड़ों और मछली पकड़ने के जालों से काग़ज़ बनाने के तरीक़े की 105 ई. में राजदरबार को जानकारी दी थी। परन्तु नये प्राप्त प्रमाणों से पता चलता है कि त्साइ-लुन से कम से कम दो सौ साल पहले काग़ज़ की जानकारी मिलती है। मगर रेशम, बाँस और काष्ठ-फलकों जैसी परम्परागत लेखन-सामग्री के स्थान पर वहाँ काग़ज़ का व्यापक इस्तेमाल ईसा की चौथी सदी से ही सम्भव हो सका।

काग़ज़ का प्रचार-प्रसार

काग़ज़ न केवल चीन में लोकप्रिय हुआ, बल्कि दुनिया में चहुँ ओर इसका प्रचार-प्रसार हुआ। ईसा की दूसरी सदी में काग़ज़ कोरिया में पहुँचा और ईसा की तीसरी सदी में जापान में। ईसा की तीसरी सदी के अन्तिम वर्षों में हिन्द-चीन के लोगों ने चीन वालों से काग़ज़ निर्माण की तकनीक हासिल की। 751 ई. में दो चीनी काग़ज़ निर्माताओं को बन्दी बनाकर समरकंद ले जाया गया, तो वहाँ पर काग़ज़ बनना शुरू हो गया। इस्लामी जगत् को काग़ज़ निर्माण कला की जानकारी मिली। बग़दाद में काग़ज़ बनाने का कारख़ाना 793 ई. में स्थापित हुआ। वहाँ से काग़ज़ निर्माण की कला दमिश्क और मिस्र में पहुँची। ईसा की बारहवीं सदी में काग़ज़ कला के यूरोप में पहुँचने तक अरबों का काग़ज़ निर्माण पर एकाधिकार बना रहा।

अलमारी में रखे रंगीन काग़ज़

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. गोरी और रहमान
और पढ़ें

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=काग़ज़&oldid=610841" से लिया गया