अली अकबर  

अली अकबर पैगम्बर मुहम्मद के नवासे इमाम हुसैन के पुत्र थे।

  • इनकी माता का नाम शहरबानों था।
  • हुसैन के साथ ये भी कर्बला के धर्मयुद्ध में शहीद हुए थे।
  • कहा जाता है कि शहीद होने के एक दिन पहले इनका विवाह हुआ था।
  • मुहर्रम के त्योहर में जो 'मेंहदी' उठाई जाती है वह इन्हीं की स्मृति में होती है।[1]



पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. पुस्तक- हिन्दी साहित्य कोश भाग-2 | सम्पादक- धीरेंद्र वर्मा (प्रधान) | प्रकाशन- ज्ञानमण्डल लिमिटेड, वाराणसी | पृष्ठ संख्या- 27

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख


"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=अली_अकबर&oldid=527684" से लिया गया