अगुआड़ा लाइट हाउस  

अगुआड़ा लाइट हाउस, गोवा

अगुआड़ा लाइट हाउस गोवा राज्य के अगुआड़ा दुर्ग में स्थित देश के सबसे पुराने लाइट हाउस में से है।

  • लाइट हाउस क़िला परिसर में है और बाहर से ही दिखना शुरू हो जाता है। इसकी चार मंज़िलें हैं।
  • वर्ष 1864 में पुर्तग़ाल से आने वाले जहाजों को दिशा दिखाने के लिए इसे बनवाया गया था।
  • अगर कहा जाए कि क़िले की शान लाइट हाउस है तो ग़लत नहीं होगा।
  • हालांकि बहुत-से लोग का मानना है कि यह एशिया का सबसे पहला दीप स्तंभ है।
  • 1976 में इसका इस्तेमाल पूरी तरह से बंद कर दिया गया था।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

अगुआड़ा दुर्ग का एक दृश्य

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"http://m.bharatdiscovery.org/w/index.php?title=अगुआड़ा_लाइट_हाउस&oldid=322396" से लिया गया